दुसरे मैच में स्पेन ने दिखाया कमाल, ईरान को 1-0 से दी मात

नई दिल्ली । पहले मैच में रूस से शिकस्त खाने के बाद अपने दमदार खेल की बदौलत पूर्व चैंपियन स्पेन ने ग्रुप-बी के अपने दूसरे मुकाबले में ईरान को 1-0 से हराकर फीफा विश्व कप 2018 में अपनी पहली जीत दर्ज की।

इस जीत के साथ स्पेन के नॉकआउट राउंड में पहुंचने की संभावना बरकरार है। इससे पहले स्पेन ने पुर्तगाल से मुकाबला 3-3 से ड्रॉ खेला था। उधर, ईरान की यह पहली हार है जिसने अपने पहले मुकाबले में मोरक्को को 1-0 से हराया था।

गेंद के पीछे दौड़ते रहे ईरानी

पहले हाफ में शुरुआत से ही गेंद पर स्पेन ने अपना कब्जा बनाए रखा। आलम यह रहा कि हाफ टाइम तक 81 फीसदी गेंद पर कब्जा स्पेन का रहा। हालांकि इस दौरान ईरानी खिलाडि़यों ने अपनी लंबाई का फायदा उठाकर फिजिकल गेम खेलने की कोशिश की लेकिन स्पेनिश खिलाडि़यों ने अपने छोटे-छोटे पास की मदद से लगातार गेंद को अपने कब्जे में बनाए रखा।

अनलकी सिल्वा

खेल के 23वें मिनट में डिएगो कोस्टा को ईरानी खिलाड़ी ईजातोलाही ने गलत तरीके से रोकने का प्रयास किया, जिसके बाद कोस्ट जमीन पर गिर गए। हालांकि, ईजातोलाही को भी इस दौरान चोट आई और उन्हें मैदान छोड़कर जाना पड़ा। रेफरी ने इससे पहले ही फ्री किक स्पेन को दे दिया था जिसे डेविड सिल्वा ने सही निशाने पर किक किया, लेकिन ईरानी गोलकीपर ने बेहद सर्तकता के साथ उसे अपने हाथों में लिया।

स्पेन को खेल के 30वें मिनट में भी गोल करने का एक मौका उस समय हाथ लगा जब तीन हेडर के बाद डेविड सिल्वा के पास गेंद आई जिस पर उन्होंने बाइसिकिल किक लगाया, लेकिन गेंद गोल पोस्ट के ऊपर से निकल गई। इसी तरह पहले हाफ के इंजुरी टाइम में सिल्वा को एक और मौका मिला लेकिन एक बार फिर स्पेन के डिफेंडरों ने उनके प्रयास को बेकार कर दिया।

कोस्टा का कमाल

दूसरे हाफ की शुरुआत भी स्पेन ने आक्रमक अंदाज में की। खेल के 50वें मिनट में सर्जियो बास्किट्स ने डी के बाहर से तेज शॉट लगाया, लेकिन ईरानी गोलकीपर बेरानवांड ने शानदार बचाव करते हुए उसे जाया कर दिया। हालांकि, लंबे इंतजार के बाद आखिरकार खेल के 54वें मिनट में स्पेन को गोल का जश्न मनाने का मौका मिल ही गया।

ईरान की निराशा

एक गोल खाने के बाद ईरान ने स्पेन पर जवाबी हमला बोलना शुरू कर दिया। खेल के 64वें मिनट में ईरान को फ्री किक मिला। डी के बाहर से लगाए गए फ्री किक के बाद पेनाल्टी स्पॉट से ईजातोलाही ने गेंद को गोल पोस्ट में पहुंचा, जिसके बाद ईरानी खेमे में जश्न शुरू हो गया।

हालांकि, स्पेन ने ऑफ साइड को जांचने के लिए वीडियो रेफरल तकनीक का सहारा लिया, जिससे ईजातोलाही के ऑफ साइड होने की पुष्टि हुई ईरानी खेमें में मायूसी छा गई। खेल के 71वें मिनट में इनेस्ता की जगह स्पेन के कोच हीरो ने कोके को उतारा। दूसरे हाफ में भी गेंद पर कब्जा स्पेन ने ही बनाए रखा।

Back to top button