कुपोषण की बात समुदाय के साथ पर बैठक में दिया गया जोर

कुपोषण की बात समुदाय के साथ पर बैठक में दिया गया जोर

रायपुर । महिला और बाल विकास विभाग की सचिव ने गुरुवार को इन्द्रावती भवन में विभागीय अधिकारियों की राज्य स्तरीय बैठक लेकर काम-काज की समीक्षा की। डॉ. एम. गीता ने बच्चों और महिलाओं में कुपोषण को जड़ से समाप्त करने के लिए स्वच्छ भारत मिशन की तर्ज पर कुपोषण की बात समुदाय के साथ पर काम करने पर विशेष जोर दिया।

इसके लिए सुपोषण वाटिका बनाने सहित सभी आवश्यक तैयारियों के निर्देश जिला अधिकारियों को दिए। उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों और महिलाओं को स्वास्थ्य और साफ-सफाई के लिए प्रेरित करने। साथ हि उनके सहयोग के लिए बाल मित्र और आंगनबाड़ी मित्र चिन्हित करने, आवश्यकतानुसार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं की नियुक्ति करने के निर्देश दिए।

विभिन्न जिलों में स्वीकृत फुलवारी केन्द्रों को अगले वर्ष 31 जनवरी तक प्रारंभ करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्यमंत्री बाल संदर्भ योजना के तहत कुपोषित बच्चों का नियमित जांच, मुख्यमंत्री अमृत योजना के तहत अधिक से अधिक बच्चों को लाभान्वित करने के लिए आंगनबाड़ी केन्द्रों में दूध और महतारी जतन योजना के तहत रेडी-टू-इट फुड की आपूर्ति सुनिश्चित करने के साथ हि आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में महिला और बाल विकास विभाग के संयुक्त सचिव अनिल चौधरी, अपर संचालक पदमनी भोई सहित सभी जिला अधिकारी उपस्थित थे।

advt
Back to top button