राष्ट्रीय

मेहता की नियुक्ति के बाद ग्रोवर ने SC से 2G मामलों से हटने का किया अनुरोध

नई दिल्ली : टूजी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले से जुड़े सभी तरह के मामलों में वर्ष 2014 में विशेष लोक अभियोजक नियुक्त किए गए वरिष्ठ अधिवक्ता आनंद ग्रोवर ने बृहस्पतिवार को उच्चतम न्यायालय से अनुरोध किया कि सभी अदालतों में चल रहे टूजी से जुड़े सभी मामलों से उन्हें कार्यमुक्त कर दिया जाए.

ग्रोवर ने केंद्र की ओर से हाल में जारी दो अधिसूचनाओं का हवाला दिया. ये अधिसूचनाएं अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता को टू-जी मामलों की अपीलों के लिए विशेष लोक अभियोजक नियुक्त करने से जुड़ी हैं.

उन्होंने इस ओर इशारा किया है कि विशेष लोक अभियोजक के रूप में तुषार मेहता की नियुक्ति के बाद ‘उनके पास करने को कुछ ज्यादा नहीं बचा’ है.

उन्होंने अपने आवेदन में कहा, ‘आवेदक को सभी अदालतों में सभी टू-जी मामलों में विशेष लोक अभियोजक के प्रभार से मुक्त किया जाए.’

माना जा रहा है कि देश की शीर्ष अदालत उनके इस अनुरोध पर दो हफ्ते में फैसला ले सकती है. 8 फरवरी, 2018 को सरकारी अधिसूचना के बाद तुषार मेहता को विशेष लोक अभियोजक के रूप में नियुक्ति की गई थी, जो टूजी मामले में जांच से जुड़ी अपील और अन्य चीजों को देखेंगे. हालांकि इसको लेकर असमंजस की स्थिति पैदा हो गई थी.

16 फरवरी को सरकार की ओर से जारी अधिसूचना में ग्रोवर और मेहता की भूमिका को लेकर स्थिति साफ करने की कोशिश की गई.

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.