मौजूदा वित्त वर्ष में अपनी क्षमता 80 प्रतिशत बढ़ाने की स्पाइसजेट ने बनाई योजना

विमानन कंपनी बेड़े में 60 विमानों को करेगी शामिल

नई दिल्ली: भारत का मासिक हवाई यात्री यातायात में वर्ष दर वर्ष आधार पर अप्रैल में पिछले छह सालों में पहली बार गिरावट आई है. पिछले 50 महीनों के दौरान यात्री यातायात वृद्धि दर दोहरे अंकों में थी. इसी कड़ी में स्पाइसजेट ने मौजूदा वित्तवर्ष में अपनी क्षमता 80 प्रतिशत बढ़ाने की योजना बनाई है.

स्पाइसजेट के मुख्य वित्त अधिकारी सीएफओ किरण कोटेश्वर ने कहा कि योजना के मुताबिक विमानन कंपनी बेड़े में 60 विमानों को शामिल करेगी, जिसमें हाल में बंद हुई जेट एयरवेज के 30 विमान शामिल हैं. कोटेश्वर ने कहा, “हमारी योजना अपनी कुल क्षमता में इस वित्त वर्ष के दौरान 80 प्रतिशत वृद्धि करने की है.”

उन्होंने कहा, “हमने जेट एयरवेज को लीज पर विमान मुहैया कराने वालों से पहले ही 22 विमान लेकर शामिल कर चुके हैं. हम उनसे अगले 10-15 दिनों में आठ अतिरिक्त विमान लेने वाले हैं.” जेट को पट्टे पर विमान देने वालों के अलावा स्पाइसजेट अपनी योजना के मुताबिक अतिरिक्त 30 विमान बेड़े में शामिल करेगी.

Back to top button