खिताब की दहलीज पर लड़खड़ा गई बोपन्ना-बाबोस की जोड़ी

बोपन्ना और बाबोस ने पहले सेट में दबदबा बनाए रखा और अपनी प्रतिद्वंद्वी की गलतियों का पूरा फायदा उठाया

खिताब की दहलीज पर लड़खड़ा गई बोपन्ना-बाबोस की जोड़ी

रोहन बोपन्ना और हंगरी की उनकी जोड़ीदार टिमिया बाबोस को पहले सेट में जीत के बावजूद ऑस्ट्रेलियन ओपन मिक्स्ड डबल्स के फाइनल में रविवार को मेलबर्न में मैट पाविच और गैब्रियला डाब्रोवस्की के हाथों हार का सामना करना पड़ा. बोपन्ना और बाबोस की पांचवीं वरीयता प्राप्त जोड़ी को क्रोएिशया के पाविच और कनाडा की डाब्रोवस्की की आठवीं वरीय जोड़ी के हाथों एक घंटे, आठ मिनट तक चले मैच में 6-2, 4-6, 9-11 से हार का सामना करना पड़ा.
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

बोपन्ना और बाबोस ने पहले सेट में दबदबा बनाए रखा और अपनी प्रतिद्वंद्वी की गलतियों का पूरा फायदा उठाया. भारत और हंगरी की जोड़ी को ब्रेक प्वाइंट के सात मौके मिले जिनमें से दो में वे सफल रहे. पाविच और डाब्रोवस्की ने इसके बाद हालांकि शानदार वापसी की. उनकी सर्विस अच्छी थी और दूसरे सेट में उन्होंने ब्रेक प्वाइंट का एक भी अवसर नहीं दिया. अब बोपन्ना और बाबोस ने गलतियां की और उन्होंने एक बार अपनी सर्विस गंवाई.

इसके बाद दोनों टीमें टाईब्रेकर में खेलने के लिए उतरीं और कड़े मुकाबले के बाद पाविच और डाब्रोवस्की खिताब जीतने में सफल रहे. दिलचस्प तथ्य यह है कि बोपन्ना ने 2017 फ्रेंच ओपन में अपना पहला ग्रैंडस्लैम खिताब डाब्रोवस्की के साथ मिलकर ही जीता था.

advt
Back to top button