वांडरर्स की जानलेवा पिच पर जारी रहेगा खेल, आज तय समय पर शुरू होगा मैच

खतरनाक होती जा रही जोहानसबर्ग की पिच के कारण टीम इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन भी खेल जारी रहेगा. तीसरे दिन के अंतिम सत्र में बुमराह की एक गेंद अफ्रीकी बल्लेबाज एल्गर के सिर पर लगने के बाद खेल को रोक दिया गया था.

खतरनाक होती जा रही जोहानसबर्ग की पिच के कारण टीम इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन भी खेल जारी रहेगा. तीसरे दिन के अंतिम सत्र में बुमराह की एक गेंद अफ्रीकी बल्लेबाज एल्गर के सिर पर लगने के बाद खेल को रोक दिया गया था.

बाद में इस मैच पर संकट के बादल मंडराने लगे थे. लेकिन बाद में दोनों तरफ के टीम मैनेजमेंट, रेफरी और अंपायर से बात करने के बाद खेल जारी रखने का फैसला लिया गया है. दरअसल, वांडरर्स की पिच पर गेंद असामान्य उछल रही है जिससे बल्लेबाजों के लिए बल्लेबाजी करना जोखिम भरा हो गया है.

मैच के दौरान अंपायर और कप्तान बार-बार पिच को लेकर बात कर रहे थे. आपको बता दें कि क्रिकेट के नियम 6.1 के अनुसार यदि पिच खराब हो जाए और दोनो कप्तान पिच पर खेलने को तैयार नहीं हो तो मैच को रद्द मानकर ड्रॉ घोषित कर दिया जाता है.

इसके अलावा अंपायर को लगता है कि पिच पर बल्लेबाजी करना खतरनाक है, तो मैच रेफरी से बात कर मैच का फैसला किया जाता है. तीसरे दिन जोहानिसबर्ग की पिच के बर्ताव को लेकर मैदानी अंपायरों के बीच काफी चर्चा हुई लेकिन इस बात ने तब जोर पकड़ लिया, जब दिन के आखिरी सेशन में जसप्रीत बुमराह की एक गेंद अफ्रीकी ओपनर डीन एल्गर के हेलमेट पर जा लगी.

इस घटना के बाद मैच रेफरी एंडी पाइक्रॉफ़्ट ने दोनों कप्तानों से बात की थी. फिलहाल तीसरे दिन का खेल खत्म हो चुका है और कल यानी शनिवार को मैच पर बड़ा फैसला लिया जा सकता है. जोहानसबर्ग की पिच को लेकर पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर, अफ्रीकी दिग्गज शॉन पोलाक समेत सौरव गांगुली भी निंदा कर चुके हैं.

गौरतलब है कि पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरे टेस्ट मैच की पिच को बल्लेबाजों के लिए अन्यायपूर्ण करार देते हुए आईसीसी से इस मामले में हस्तक्षेप करने के लिए कहा था. गांगुली ने ट्वीट किया था, ‘इस तरह की पिच पर टेस्ट क्रिकेट खेलना अन्यायपूर्ण है.

1
Back to top button