छत्तीसगढ़

अखंड ज्योति प्रज्जवलन के साथ शुरू हुआ श्रीश्याम महोत्सव

श्री श्याम प्रचार सेवा समिति के अध्यक्ष सौरभ अग्रवाल, महामंत्री सर्वेश शर्मा ने कहा कि, विभिन्न क्षेत्रों में सामाजिक और सेवाभावी कार्य करने वाले 20 लोगों को कल, रविवार को श्री श्याम रत्न सम्मान से सम्मानित किया जाएगा.

रायपुर:  श्री श्याम प्रभु खाटू वाले का 16वां श्री श्याम महोत्सव शनिवार को रामनाथ भीमसेन सभा भवन, समता कॉलोनी में अखंड ज्योति प्रज्जवलन के साथ शुरू हुआ। जैसे ही सुबह श्याम बाबा का दरबार खुला भक्तों की कतार लग गई और विनय अग्रवाल के भक्ति गीतों के साथ जय श्री श्याम से आयोजन स्थल गूंज उठा। मनोज रिया ग्रुप के कलाकारों ने गणेश वंदना की झांकी प्रस्तुत की और शुरू हुआ भक्ति गीतों का सिलसिला.. श्याम बाबा के दरबार में होती है सबकी सुनवाई-क्या हिंदू, क्या मुस्लिम, क्या सिक्ख-ईसाई..। भजनामृत की प्रवाह में महिला और पुरूष सदस्य जिस प्रकार नाच-गा रहे थे पूरा आयोजन स्थल श्याममय हो गया था।

कोलकाता से आये कलाकारों ने की श्री श्याम प्रभु की सजावट : .

श्रीश्याम प्रभु खाटू वाले का अलौकिक श्रृंगार काफी मोहित कर रहा था, वैसे तो एक दिन पहले ही श्रीश्याम नाम के मेंहदी लगाने और दुग्धाभिषेक की रस्म अदायगी हो गई थी। कोलकाता से आए कलाकारों ने काफी आकर्षक सजावट की है। पहले दिन भजनों की श्रृंखला में गोविंद शर्मा (जयपुर), मो. निजाम भाई (जयपुर), रेशमी शर्मा (समस्तीपुर), रामकुमार लक्खा (गाजियाबाद), अनिल रजनीश शर्मा (फतेहाबाद) ने एक से बढ़कर एक भजनों की प्रस्तुति दी। मनोज रिया ग्रुप के कलाकारों की जीवंत झांकी माँ काली और शनि महाराज के संदर्भ में काफी मोहक अंदाज में प्रस्तुत किया गया। 

प्रतापसिंह चौहान मंत्री श्रीश्याम मंदिर कमेटी (खाटू श्यामजी) महोत्सव में विशेष रुप से शामिल होने के लिए पहुंचे हुए हैं। उन्होने श्री श्याम प्रचार सेवा समिति की ओर से शुरू की गई हारे का सहारा सहयोग पात्र श्री श्याम प्रभु के चरणों में अर्पित कर औपचारिक वितरण की शुरूआत भी आज शनिवार को की। इससे पूर्व उनका समिति के सदस्यों ने परम्परागत ढंग से स्वागत किया। 
श्री श्याम प्रचार सेवा समिति के अध्यक्ष सौरभ अग्रवाल, महामंत्री सर्वेश शर्मा ने कहा कि, विभिन्न क्षेत्रों में सामाजिक और सेवाभावी कार्य करने वाले 20 लोगों को कल, रविवार को श्री श्याम रत्न सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। 

धार्मिक सेल्फी जोन बना आकर्षण का केन्द्र : 

पहली बार किसी धार्मिक आयोजन में सेल्फी जोन बनाया गया है। श्रीश्यामनामी स्लोगन और चित्रों से सुसज्जित सेल्फी जोन में जाकर श्रद्धालु सेल्फी ले रहे थे। गले में श्यामप्रभु चित्रित मोती की माला, माथे पर चंदन का लेप, सिर पर पगड़ी पहले लोगों का भक्तिभाव देखते ही बन रहा था।

Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
%d bloggers like this: