बहतराई शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला में एसएसवी ग्रुप द्वारा कैरियर काउंसलिंग

विपुल मिश्रा:

बहतराई: शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला बहतराई में एसएसवी ग्रुप द्वारा कैरियर काउंसिलिंग दी गई जिसमें की बच्चो को बारहवीं के बाद होने वाली अनेक कोर्सेज की जानकारी दी गई और कोर्स करियर बनाते समय किन किन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिये इन सब मुद्दों पर बात की गई।

बहतराई स्कूल की प्रिंसिपल मैडम स्मिता चोपड़े से बात

इसके अलावा बहतराई स्कूल की प्रिंसिपल मैडम स्मिता चोपड़े से बात की गई कि इस स्कूल में विशेष रूप से किन किन बातों की समस्या हो रही है, जिसमे की मैडम ने बताया कि वह विगत 10 सालो से इस साल में है और इसी बीच मे स्कूल को मिडिल स्कूल से उच्चतर माध्यमिक शाला बनाया गया

लेकिन उसके बाद जरूरत के अनुसार भवन का निर्माण नही करवाया गया जिससे की कक्षा ग्यारहवी व बारहवी के विद्यरथियो के लिए अलग से कोई क्लासरूम नही होने की वजह से वहां सभी बच्चो को एक साथ व्यवस्थित करने में बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है

साइंस लैब जैसी मूलभूत सुविधाएं जो कि विज्ञान के छात्रों के लिए होना शाला में बहुत जरूरी होता है वैसी व्यवस्थाएं शाला को प्रबंध द्वारा प्राप्त नही हो रही है। हाल ही में सांसद अरुण साव विधायक रजनीश सिंह के द्वारा एक 6 कमरो का भवन निर्माण कर स्कूल प्रबंध को दिया गया है जिसमे की 3 और कमरो की जरूरत पड़ रही है जिसके लिए कोई मदद नही की जा रही है

ऐसे में बहुत से समस्याओं से आसपास के छेत्रों से आने वाले विद्यार्थोयो को सामना करना पड़ रहा है। बहतराई के इस शाला के विद्यार्थोयो में पढ़ाई के प्रति बहुत रुचि भी है और हर साल यह के बच्चो का रिजल्ट 100% रहा है फिर भी शासन इस स्कूल को ध्यान नही दे पा रही है।

स्कूल के टीचर्स ओर प्रिसिपल बच्चो को अच्छी शिक्षा और अच्छे संस्कार देने में कोई कमी नही कर रहे है किंतु जो मूलभत आवश्यकताएं पड़ रही है वह बच्चो के लिये काफी हद तक समस्या बनती जा रही है।

Tags
Back to top button