राज्योत्सव के लिए सजने लगा साइंस कॉलेज ग्राउंड पर स्टॉल, ये होगा खास

इन स्टाॅल में प्रदेश की पुरातन बाजार व्यवस्था के अपडेट वर्जन की होगी झलक

रायपुर: राज्योत्सव 2019 में होने वाले कार्यक्रमों का आयोजन राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में दिनांक 1 नवंबर 2019 से 3 नवंबर 2019 तक किया जा रहा है। राज्योत्सव के लिए साइंस कॉलेज ग्राउंड पर स्टॉल सजने लगा है।

इन स्टाॅल में प्रदेश की पुरातन बाजार व्यवस्था पौनी-पसारी के अपडेट वर्जन की झलक होगी तो नो-प्लास्टिक का संदेश भी। राजधानी का नगर निगम पौनी पसारी के साथ-साथ रामकृष्ण आश्रम में अमृत मिशन के तहत बनाए गए उद्यान का माॅडल भी दिखाने जा रहा है।

इसी तरह, रायपुर स्मार्ट सिटी कंपनी ने अपना माॅडल नो-प्लास्टिक मुहिम पर तैयार किया है। इसके अलावा राज्योत्सव में कई और शहरों के स्टाॅल रहेंगे। ज्यादातर की थीम सफाई, पर्यावरण और बुनियादी जरूरतों पर अाधारित रहेगी।

राजधानी में पिछले महीने निगम ने छोटा बाजार पौनी-पसारी के नाम से शुरू किया है। इसे पुराने पौनी-पसारी का अपडेट तथा शहरी संस्करण कहा जा रहा है। इसका माॅडल रायपुर निगम के स्टॉल में दिखेगा। इसके जरिए महिलाओं के सशक्तिकरण और ग्रामीण अंचलों के पारंपरिक बाजार को दिखाया जाएगा।

जबकि स्मार्ट सिटी नो प्लास्टिक थीम पर मॉडल पेश करेगा। साथ ही एबीडी इलाके में प्रस्तावित कामों के साथ स्मार्ट सिटी मिशन के तहत अब तक किए मुख्य कामों की बानगी भी पेश की जाएगी। स्मार्ट सिटी ने नो प्लास्टिक थीम के तहत नगर निगम ने के साथ मिलकर करीब एक महीने लंबा कार्यक्रम चलाया था।

इसके तहत शहर के दस बाजारों को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त भी घोषित किया था। प्लास्टिक वेस्ट के कलेक्शन के लिए शहर में क्या क्या किया जा रहा है। अगले चरण में प्रस्तावित कामों को भी स्टॉल में पेश किया जाएगा।

बस टर्मिनल और वाटर हार्वेस्टिंग की भी दिखाएंगे मॉडल

राज्योत्सव में रायपुर शहर से जुड़े चार अहम काम स्टॉलों पर देखने को मिलेंगे। नगर निगम और स्मार्ट सिटी जहां पौनी पसारी, नो प्लास्टिक और अमृत मिशन पर शहर के विकास को दिखाएंगे।

वहीं यांत्रिकी विभाग रावणभाटा में बने अंतरराज्यीय बस टर्मिनल (आईएसबीटी) की झलक दिखाएंगे। आईएसबीटी के साथ यांत्रिकी विभाग प्रदेश के शहरी क्षेत्रों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग और कामकाजी महिलाओं के लिए बनाए गए हॉस्टल का मॉडल बनाएगा।

महिलाओं के सशक्तिकरण पर प्रजेंटेशन में होगा फोकस

रायपुर नगर निगम और स्मार्ट सिटी के स्टॉल में ऑडियो विजुअल प्रजेंटेशन भी रहेगी। इसमें महिलाओं के सशक्तिकरण और सक्सेस को दिखाया जाएगा। पौनी पसारी में 80 फीसदी दुकानें महिला समूहों को दी गई हैं।

हालांकि राजधानी में महिला बाजार के प्रयोग अब तक बहुत सफल नहीं रहे हैं। हालांकि नो प्लास्टिक थीम में कपड़े के थैले और दोने-पत्तल आदि बनाने में महिलाओं की ही भूमिका महत्वपूर्ण है, प्रजेंंटेशन में इसी पर फोकस होगा।

किस शहर के स्टॉल पर कौन सा मॉडल

स्मार्ट सिटी रायपुर से नो प्लास्टिक, रायपुर नगर निगम -पौनी पसारी, अमृत, अंबिकापुर से मिशन क्लीन सिटी, कोरबा से वाटर सप्लाई योजना, बिलासपुर से मोर मकान मोर चिन्हारी, राजनांदगांव से सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, भिलाई से गोठान, यांंत्रिकी विभाग से रैन वॉटर हार्वेस्टिंग का मॉडल दिखाया जाएगा।

Back to top button