छत्तीसगढ़

स्वीकृत निर्माण कार्यों को तत्काल प्रारंभ करें: राजेश मूणत

-लोक निर्माण मंत्री ने विभागीय काम-काज की समीक्षा की

रायपुर :

लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत ने आज राजधानी रायपुर के सिविल लाईन स्थित नवीन विश्राम भवन में विभागीय काम-काज की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को विभाग के अंतर्गत अब तक स्वीकृत सभी कार्यों को तत्काल प्रारंभ करने के लिए निर्देशित किया।

साथ ही निर्माणाधीन कार्यों को गुणवत्ता के साथ शीघ्र पूर्ण करने के लिए आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देशित किया कि स्वीकृृत कार्यों की निविदा प्रक्रिया में अनावश्यक विलम्ब न हो, इसका विशेष ध्यान रखें।

मूणत ने बैठक में संभागवार लोक निर्माण विभाग के अंतर्गत दस करोड़ रूपए की अधिक लागत से निर्माणाधीन कार्यों की प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने रायपुर शहर के अंतर्गत निर्माणाधीन कार्यों में से प्रगति के अंतिम चरण में चल रहे सभी कार्यो को सितम्बर के अंत तक हर हालत में पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया।

उन्होंने बताया कि रायपुर शहर में अटल विकास यात्रा के आगामी 5 अक्टूबर को आयोजित होने वाले कार्यक्रम के दौरान इन सभी कार्यों का लोकार्पण किया जाएगा। इनमें रायपुर शहर के अंतर्गत निर्माणाधीन फाफाडीह-तेलीबांधा-नया रायपुर मार्ग एक्सप्रेस-वे के देवेन्द्रनगर से तेलीबांधा भाग वाले मार्ग का भी लोकार्पण होगा। इस मार्ग के अंतर्गत राजधानी के देवेन्द्र नगर, पंडरी तथा शंकरनगर में निर्माणाधीन फ्लाईओव्हरों का निर्माण भी चालू माह सितम्बर तक पूर्ण कर लिया जाएगा।

लगभग 313 करोड़ रूपए की लागत से निर्माणाधीन एक्सप्रेस-वे में 3 फ्लाईओव्हरों के अलावा अवंति विहार तथा तेलीबांधा में ऐलिवेटेड कॉरिडोर और पंडरी, अमलीडीह तथा गुढ़ियारी में अंडर पास का निर्माण प्रगति पर है। श्री मूणत ने इसके अलावा रायपुर शहर के अंतर्गत वर्तमान में निर्माणाधीन 37 करोड़ रूपए की लागत के आमानाका रेलवे ओव्हर ब्रिज, 21 करोड़ रूपए की लागत के गोंदवारा रेलवे अण्डरब्रिज, 61 करोड़ रूपए की लागत के शंकरनगर रेलवे ओव्हरब्रिज तथा 70 करोड़ रूपए की लागत के गोंदवारा रेलवे ओव्हर ब्रिज के कार्यों को भी तीव्र गति से पूर्ण करने के निर्देश दिए।

इस दौरान मूणत ने प्रदेश में तीन मेडिकल कॉलेजों के निर्माण में भी विशेष गति लाने के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। इनमें राजनांदगांव में 372 करोड़ रूपए की लागत से निर्माणाधीन शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय भवन को 30 सितम्बर तक हर हालत में पूर्ण करने निर्देशित किया। इसी तरह रायगढ़ में 283 करोड़ रूपए की लागत से निर्माणाधीन शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के निर्माण में भी विशेष गति लाने के लिए निर्देश दिए।

इसके निर्माण कार्य को चालू वर्ष में दिसम्बर माह तक पूर्ण कर लिए जाने की संभावना है। इसके अलावा संभागीय मुख्यालय अम्बिकापुर में शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय भवन का निर्माण 374 करोड़ रूपए की राशि से किया जाएगा। मूणत ने इसके निर्माण कार्य में तीव्र गति लाने के लिए आवश्यक निर्देश दिए।

मूणत ने आगे लोक निर्माण विभाग (सेतु) के अंतर्गत राज्य में निर्माणाधीन कार्यों की प्रगति की विस्तार से समीक्षा की। वर्तमान में 1037 करोड़ रूपए की लागत राशि से 40 पुलों का निर्माण प्रगति पर है। इनमें सभी पुल 10 करोड़ रूपए से अधिक राशि से बनाए जा रहे हैं। इन पुलों में से रायपुर क्षेत्र में 18, राजनांदगांव क्षेत्र में 7, जगदलपुर क्षेत्र में 3, बिलासपुर क्षेत्र में 9 और रायगढ़ क्षेत्र में 3 पुलों का निर्माण प्रगति पर है। इसके अलावा प्रदेश में पांच रेलवे ओव्हर अण्डर ब्रिजों के निर्माण के लिए निविदा प्रक्रिया जारी है।

इनमें रायपुर रेलवे स्टेशन के पास तेलघानी नाका पर 38 करोड़ रूपए की लागत के रेलवे ओव्हर ब्रिज तथा उरकुरा-सरोना बायपास रेललाईन के खमतराई-बिलासपुर मार्ग में 39 करोड़ रूपए की लागत के रेलवे ओव्हर ब्रिज का निर्माण शामिल है।

इसी तरह हावड़ा-मुंबई रेललाईन के जयरामनगर में 47 करोड़ रूपए की लागत से रेलवे ओव्हर ब्रिज तथा अण्डरब्रिज, चांपा-गेवरा रेललाईन उरगा क्रॉसिंग के उरगा-हाटी रोड में 28 करोड़ रूपए की लागत के रेलवे ओव्हरब्रिज और हावड़ा-मुंबई रेललाईन के कोतरा रोड रायगढ़ में 82 करोड़ की लागत से रेलवे ओव्हरब्रिज का निर्माण शामिल है। इस अवसर पर लोक निर्माण विभाग के सचिव सुबोध कुुमार सिंह, विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी अनिल राय तथा प्रमुख अभियंता डी.के. प्रधान सहित मुख्य अभियंता और अधीक्षक अभियंता उपस्थित थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
https://www.clipper28.com
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags