‘संविधान बचाओ न्याय यात्रा’ में तेजस्वी-सुरेश एक साथ, मचा सियासी घमासान

कुख्यात अपराधी सुरेश ने तेजस्वी के साथ एक सेल्फी ली

पटना :

‘संविधान बचाओ न्याय यात्रा’ के दौरान विरोधी दल के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव के साथ एक कुख्यात अपराधी सुरेश चौधरी की तस्वीर वायरल होने के बाद सियासी घमासान मच गया है। राज्य के मौजूदा उप मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने इस घटना पर ट्वीट कर कहा,

‘तेजस्वी यादव को संविधान यात्रा की जगह राजद के संविधान पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए, जिसका एक ही व्यक्ति पिछले 17 वर्षों से राष्ट्रीय अध्यक्ष है। पार्टी में एक ही परिवार के सदस्य महत्वपूर्ण पदों पर काबिज हैं और मोहम्मद शहाबुद्दीन जैसा सजायाफ्ता शख्स पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का सदस्य रहा है।’

जिस दल का संविधान इतना अलोकतांत्रिक हो कि एक व्यक्ति १७ बार पार्टी का अध्यक्छ बन सकता है, एक ही परिवार के कई लोग प्रमुख पदों पर हो सकते हैं और शहाबुद्दीन जैसे सजायाफ्ता कई साल तक राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य रह सकते हों…..

वहीं जदयू के प्रवक्ता एवं विधान पार्षद नीरज कुमार ने झारखंड के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को एक पत्र लिखा और चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव को जेल से फरार कराने की साजिश रचे जाने की आशंका जताई।

इस बीच, राजद ने तेजस्वी यादव का बचाव करते हुए कहा कि वह जनता के बीच रहने वाले नेता है और कई ऐसे लोगों से मिलते हैं जिन्हें वह नहीं जानते हैं। बता दें कि तेजस्वी यादव मंगलवार को गोपालगंज में थे जहां ‘संविधान बचाओ न्याय यात्रा’ के दौरान कई आपराधिक मामलों में आरोपी सुरेश चौधरी के साथ उनकी तस्वीर सामने आई। बताया जाता है कि इस दौरान सुरेश ने तेजस्वी के साथ एक सेल्फी ली।

Back to top button