छत्तीसगढ़राजनीति

प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण से जुड़ीं अहम तथ्यात्मक जानकारियाँ छिपा रही : भाजपा

उसेंडी ने सवाल दागा : कोरोना संक्रमण का सच छिपाकर प्रदेश सरकार क्या प. बंगाल सरकार के नक्श-ए-कदम पर चल रही?

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने प्रदेश सरकार पर कोरोना संक्रमण से जुड़ीं अहम तथ्यात्मक जानकारियाँ छिपाने का गंभीर आरोप लगाया है। उसेंडी ने सवाल दागा कि कोरोना संक्रमण के मरीजों का आँकड़ा और उससे हुई मौतों का सच छिपाकर प्रदेश सरकार क्या प. बंगाल की राज्य सरकार के नक्श-ए-कदम पर चल रही है?

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष उसेंडी ने कहा कि संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौतों को लेकर सरकार की पारदर्शिता और ईमानदारी सवालों के दायरे में आ गई है। अभी हाल ही बेमेतरा में एक युवक की मृत्यु होने के तीन घंटे के बाद उसकी सैम्पलिंग की गई जबकि अब तक उसकी मौत के कारणों को स्पष्ट नहीं किया गया है।

एक अन्य व्यक्ति का कोरोना संदिग्ध बता उपचार किया जा रहा था और बाद में उसे कोरोना निगेटिव बता दिया गया जबकि उसका इलाज कर रहे डॉक्टर को क्वारेंटाइन कर रखा गया है। उसेंडी ने कहा कि सूरजपुर में दो लोगों की मौत को लेकर भी प्रदेश सरकार की विश्वसनीयता दाँव पर है। इन मौतों को संदिग्ध माना जा रहा है क्योंकि सूरजपुर के इन मृतकों को कोरोना निगेटिव बताने पर सरकार आमादा नजर आ रही है। इन मृतकों का पोस्टमार्टम क्यो नहीं कराया गया ?

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष उसेंडी ने कहा

 

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष उसेंडी ने कहा कि क्वारेंटाइन सेंटर्स में में लगातार मौतों का सिलसिला जारी है और प्रदेश सरकार और उसकी प्रशासनिक मशीनरी इन मौतों को छिपाकर प्रदेश को अंधेरे में रख रही है। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार प. बंगाल की राज्य सरकार की तरह ही तथ्य और सत्य को छिपाकर कोरोना नियंत्रण के झूठे दावे कर रही है।

उसेंडी ने मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के कोरोना को लेकर परस्पर विरोधाभासी बयानों पर हैरत जताई कि एक तरफ मुख्यमंत्री कोरोना पर नीयंत्रण का दावा करते फिर रहे हैं वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य मंत्री कोरोना संकट के और गहराने की आशंका जता रहे हैं। इन परस्पर विरोधाभासी बयानों से प्रदेश में दुविधा की स्थिति बन रही है।

Tags
Back to top button