छत्तीसगढ़

बुजुर्ग पेंशन धारियों को भी घर पहुंच दवा की सुविधा उपलब्ध करवाए राज्य सरकार – संजीव अग्रवाल

संजीव अग्रवाल ने स्वास्थ्य विभाग और राज्य सरकार का ध्यानाकर्षण करते हुए कहा

रायपुर: संजीव अग्रवाल ने एक बेहद ही संवेदनशील मुद्दे पर मीडिया के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग और राज्य सरकार का ध्यानाकर्षण करते हुए कहा है कि छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल डॉ भीमराव अंबेडकर अस्पताल, रायपुर में स्थित है, वहां पता चला है कि पेंशन धारियों को दवाएं उपयुक्त मात्रा में उपलब्ध नहीं कराई जा रही हैं।

संजीव अग्रवाल ने कहा कि जहां एक तरफ कोरोना वायरस के संकट के कारण 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों को बाहर निकलने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय एडवाइजरी जारी करता है कि वह ना निकलें और ज्यादा से ज्यादा अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें, वहीं दूसरी ओर यह कि जो 60 साल से ऊपर पेंशन धारी हैं, उन्हें उनकी दवाइयों के लिए मेकाहारा अस्पताल के चक्कर बार-बार काटने पड़ रहे हैं।

वहां बातचीत करने पर अस्पताल प्रशासन भी यह मान रहा है की दवाइयों की आपूर्ति सुचारू मात्रा में और पर्याप्त अवधि में उपलब्ध नहीं हैं, इसीलिए मरीजों और पेंशन धारियों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

संजीव अग्रवाल ने का उनका सुझाव है कि इस कोरोना वायरस की महामारी के बीच पेंशन धारियों को राज्य सरकार और मेकाहारा प्रबंधन घर पहुंच दवाइयों का वितरण करवाएं, ताकि यह सभी नागरिक सुरक्षित रह पाएं और हॉस्पिटल में भीड़भाड़ जैसी स्थिति होने से भी बचा जा सके।

Tags
Back to top button