मातृशक्ति और शिशु स्वास्थ्य प्रदेश सरकार की प्राथमिकता-भूपेश बघेल

राजशेखर नायर:

धमतरी: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मातृ शक्ति और स्वास्थ्य के लिए प्रदेश सरकार द्वारा उठाये जा रहे कदम और प्रयासों के विषय में लोकवाणी में जानकारी दी। ज्ञात हो कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की रेडियो वार्ता लोकवाणी की तीसरी कड़ी का प्रसारण आज आकाशवाणी से सुबह 10.30 बजे से किया गया। जिला मुख्यालय में इसके सार्वजनिक श्रवण की व्यवस्था मकई गार्डन में की गई थी।

लोकवाणी सुनने के बाद उपस्थित पूर्व विधायक हर्षद मेहता ने मातृ और शिशु स्वास्थ्य के लिए 02 अक्टूबर से शुरू किये गए सुपोषण अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा कि जिस तरह से नौ विभागों के समन्वित प्रयास से इस अभियान को सफल बनाने मुहिम छेड़ी गई। यह अपने आप में एक मिसाल है कि सरकार कुपोषण मिटाने और महिलाओं के स्वास्थ्य के प्रति कितनी गंभीर है।

इस अवसर पर मोहन लालवानी ने लोकवाणी में महिलाओं द्वारा सीधे मुख्यमंत्री से किये गए सवालों को सुनने के बाद विश्वास जताया कि यह केवल कुछ महिलाएं नहीं बल्कि मातृ शक्ति की आवाज है, जो अब जागरूक होकर अपने और अपनी आने वाली संतान की चिंता कर रही है। मकई गार्डन में उपस्थित प्रतिमा कोसरे ने प्रदेश के मुखिया की बातें सुनने के बाद उम्मीद जताई कि सुपोषण अभियान, मुख्यमंत्री हाट बाजार और शहरी स्लम योजना से वास्तव में लोगों के स्वास्थ्य स्तर में बढ़ोतरी होगी।

प्रदेश की आनेवाली पीढ़ी की सुध लेते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुपोषण अभियान चलाया

वरिष्ठ नागरिकमदन मोहन खण्डेलवाल ने तीज, हरेली जैसे छतीसगढ़ की संस्कृति से जुड़े त्यौहार में अवकाश मिलने पर कहा कि इससे महिलाएं काफी खुश हुई। वीरेंद्र कोसरिया ने कहा कि प्रदेश की आनेवाली पीढ़ी की सुध लेते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुपोषण अभियान चलाया इससे महिलाओं में अनीमिया मिटाने और बच्चों को सुपोषित करने में आसानी होगी।

विजय प्रकाश जैन का सुझाव है कि मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई इन कल्याणकारी योजनाओं की मॉनिटरिंग सही तरीके से करने जनसहभागिता ली जानी चाहिए। मोहम्मद अशरफ रोकड़िया ने मुख्यमंत्री की भूरि-भूरि प्रशंसा की कि उन्होंने लोकवाणी के जरिए खैरागढ़ अस्पताल को 50 बिस्तर में उन्नयनित करने की घोषणा की।

मौके पर सलीम गौस ने मुख्यमंत्री हाट बाजार और शहरी स्लम क्लिनिक योजना को काफी सराहा, जिससे कि अब प्रत्येक बस्ती और बसाहट तक स्वास्थ्य सुविधा मुहैय्या हो सकेगी। लोकवाणी न केवल जिला मुख्यालय वरन जिले भर के विभिन्न स्थानों में सुना गया।

Back to top button