छत्तीसगढ़

14 सालों में प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर हुई है : रामसेवक पैकरा

14 सालों में प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर हुई है : रामसेवक पैकरा

रायपुर : प्रदेश में भाजपा सरकार के 14 साल पूरे होने के अवसर पर सरकार के सभी मंत्री अपने अपने विभागों के 14 सालों में हुए कार्यों का ब्यौरा दें रहे हैं . इसी कड़ी में गृहमंत्री रामसेवक पैकरा ने भी अपने विभाग के 14 सालों के कार्यों का ब्यौरा दिया.

मंत्री ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि पिछले 14 वर्षों में प्रदेश में कानून व्यवस्था में सुधार आया है साथ ही लोगों को सुरक्षा देने का पूरा प्रयास किया जा रहा है. मंत्री ने कहा कि जिस तरह से नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षा बलों पैठ बढ़ रहा है उससे नक्सली उल्टे पाँव भागने को मजबूर है.

गृहमंत्री की माने तो नक्सल प्रभावित कहे जाने वाले कई क्षेत्रों से अब नक्सलियों का खात्मा हो गया है. रामसेवक पैकरा ने कहा कि जिस तरह से सुरक्षा बल तेजी से काम कर रहे हैं उससे 2022 तक प्रदेश पूर्ण नक्सल मुक्त प्रदेश होगा. रामसेवक पैकरा ने जानकारी देते हुए बताया कि साल 2003 में प्रदेश में 293 पुलिस थाना और 57 पुलिस चौकी थी जो अब बढ़कर 453 थाना और 113 हो गए हैं.

उन्होंने बताया कि अब नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में तैनात जवानों के वेतन और भत्ते में बढ़ोत्तरी हुई है. गृहमंत्री ने जेल विभाग के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में जेलों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है साथ ही प्रहरी भर्ती और प्रशिक्षण केन्द्रों में बढ़ोत्तरी हुई है. रामसेवक पैकरा की माने तो पिछले 14 वर्षों में सरकार ने कानून व्यवस्था में सुधार लाने के लिए पुलिस कर्मियों सहित अन्य जवानों की भर्ती की है.

कंबल वाले बाबा पर जताया विश्वास

प्रदेश के गृहमंत्री अब अभी कंबल वाले बाबा पर अपना विश्वास जता रहे हैं. ऐसा खुद गृहमंत्री रामसेवक पैकरा ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा. गृहमंत्री ने कहा कि कंबल वाले बाबा के पास दूर दूर से लोग अपना इलाज कराने आते है और मैंने खुद लोगों को ठीक होते देखा है. उन्होंने कहा कि ये अपने अपने आस्था और विश्वास का सवाल है जिसकों विश्वास है वो वहां जाते हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.