प्रदेश मंत्री अमरजीत भगत ने किया एक दिवसीय सिरपुर महोत्सव का शुभारंभ

महासमुंद ब्यूरो रिपोर्ट मनोज मिश्रा:

महासमुन्द: छत्तीसगढ़ के सुप्रसिद्ध ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक स्थल सिरपुर में माघ पूर्णिमा के अवसर पर रविवार को एक दिवसीय सिरपुर महोत्सव का शुभारंभ प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री अमरजीत भगत ने किया।

इस अवसर पर महासमुन्द विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर, बसना विधायक देवेन्द्र बहादुर सिंह, चन्द्रपुर विधायक रामकुमार यादव, जिला पंचायत सदस्य अमर अरूण चन्द्राकर, सरपंच ललित धु्रव, आलोक चन्द्राकर सहित अनेक जनप्रतिनिधिगण, गणमान्य नागरिक, अधिकारीगण एवं बड़ी संख्या में आम नागरिक उपस्थित थे।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र कुमार शुक्ल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ.रवि मित्तल, एसडीएम महासमुन्द सुनील कुमार चन्द्रवंशी विशेष रूप से उपस्थित थे। मंच संचालन हिमांशु भारती एवं सुरेन्द्र मानिकपुरी ने किया।

विश्व प्रसिध्द ईटों से बना लक्ष्मण मंदिर

महोत्सव के मुख्य अतिथि पर्यटन एवं संस्कृति, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि सिरपुर प्राचीन समय का वैभवशाली नगरी एवं दक्षिण कौशल की राजधानी रही है। यहां विश्व प्रसिध्द ईटों से बना लक्ष्मण मंदिर है। इसे देखने के लिए देश-विदेश के पर्यटक बड़ी संख्या में प्रतिवर्ष यहां आते है।

उन्होंने कहा कि हम सबका यह सौभाग्य है कि हम छत्तीसगढ़ की धरती पर पैदा हुए है। यहां विभिन्न सम्प्रदाय एक साथ फले-फूले। उन्होंने कहा कि हमे अपनी प्राचीन इतिहास एंव संस्कृति को संजोकर रखना चाहिए। यहां व्हेनसांग, नागर्जुन, फह्यान जैसे अनेक विद्वान एवं बुध्द के अनुयायी यहां प्रचीन समय में आते रहे है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश की वाणिज्य कर, आबकारी, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा ने कहा कि महानदी के पावन तट पर स्थित पुरा नगरी सिरपुर विश्व धरोहर के रूप में विख्यात है। यह दुनिया के प्राचीन धरोहरों में शामिल है।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष अन्य वर्षो की अपेक्षा मेला मढ़ई में दूर-दराज से आने वाले श्रध्दालुओं एवं दर्शक बड़ी संख्या में आ रहे है। विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित महासमुन्द विधायक विनोद सेवन लाल चन्द्राकर, बसना विधायक देवेन्द्र बहादुर सिंह, चन्द्रपुर विधायक रामकुमार यादव, आलोक चन्द्राकर ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। इस अवसर पर प्रभारी कलेक्टर शरीफ मोहम्मद खान ने स्वागत भाषण दिया।

प्रमाण पत्र एवं साल, श्रीफल, देकर सम्मानित

अतिथियों ने सिरपुर पहुंचकर जिला प्रशासन द्वारा लगाए गए विभिन्न स्टालों का अवलोकन भी किया। महानदी के रेतीले तट के समीप बनाए गए भव्य मंच के माध्यम से अतिथियों ने कलाकारों एवं प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र एवं साल, श्रीफल, देकर सम्मानित किया।

सिरपुर में माघ पूर्णिमा के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा महिला स्वसहायता समूह एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्टॉल भी लगाया गया। इसके अलावा कार्यक्रम स्थल में पेयजल टैंकर और फायर ब्रिगेड आदि की व्यवस्था की गई थी। वाहनों के आवाजाही को व्यवस्थित करने के लिए पार्किंग शौचालय और चिकित्सकों की टीम अपात स्थिति से निपटने के लिए तैनात किया गया था।

कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न सुविधाओं की देखरेख के लिए एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया था। नियंत्रण कक्ष में विद्युत मंडल, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, पुलिस एवं अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी तैनात किए गए थे। अतिथियों ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत सुपोषण स्वच्छता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

दर्शकों ने उठाया रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आनंद

एक दिवसीय सिरपुर महोत्सव में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई। इसमें सरायपाली विकासखण्ड के ग्राम बेलडीह के कर्मा नृत्य, महासमुन्द विकासखण्ड के ग्राम मुड़ियाडीह के पंथी नृत्य, महासमुन्द के दिशा नाट्य मंच द्वारा युग के पुकार, सिरपुर आदिवासी कन्या आश्रम द्वारा लोक नृत्य, महासमुन्द प्री-मैट्रिक अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास द्वारा लोक नृत्य गीत, दिशा नाट्य मंच द्वारा नवजीवन, महासमुन्द शासकीय आशी बाई गोलछा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय द्वारा लोक नृत्य, अवनीश वाणी द्वारा रॉक बैण्ड द्वारा आकर्षक प्रस्तुतियां दी गई।

इसके अलावा उद्घाटन कार्यक्रम मे तेजराम पटेल द्वारा कत्थक नृत्य, प्री-मेट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास महासमुन्द द्वारा लोक नृत्य, गीत बारी नाटक, सोलह श्रृंगार लोक कला मंच द्वारा नरवा, गरवा, घुरूवा नाटक, भुईया के गोठ छत्तीसगढ़ी नाचा पार्टी ग्राम हाट चरौदा, आरंग जिला रायपुर द्वारा छत्तीसगढ़ी नाचा ने आकर्षक प्रस्तुतियां देकर दर्शकों का मन मोह लिया।

Tags
Back to top button