सपा-बसपा-रालोद गठबंधन से दूर रहें, ये सेहत के लिए हानिकारक है: मोदी

मेरठ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भाजपा की चुनाव प्रचार मुहिम शुरू करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी सरकार ने हर क्षेत्र में र्सिजकल स्ट्राइक करने का साहस दिखाया है, चाहे वह जमीन हो, आसमान हो या फिर अंतरिक्ष हो। प्रधानमंत्री ने राज्य में सपा-बसपा गठबंधन और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज एक तरफ नए भारत के संस्कार हैं, तो दूसरी तरफ वंशवाद और भ्रष्टाचार का विस्तार है। एक तरफ दमदार चौकीदार है, तो दूसरी तरफ दागदारों की भरमार है।

मोदी ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मुकाबला एक निर्णायक सरकार और एक अनिर्णायक अतीत के बीच है।’’ उन्होंने कहा कि सपा के स, रालोद के र और बसपा के ब को मिलाकर सराब बनती है जो सेहत के लिये खतरनाक होती है। इसलिए इस गठबंधन से दूर रहना चाहिए।

मोदी ने कहा कि र्सिजकल स्ट्राइक का साहस भी चौकीदार की सरकार ने ही दिखाया है। वन रैंक वन पेंशन का वादा भी हमारी सरकार ने पूरा किया। देश पहली बार ऐसी निर्णायक सरकार देख रहा है जो अपने संकल्प को सिद्ध करना जानती है। जमीन हो, आसमान हो या फिर अंतरिक्ष, र्सिजकल स्ट्राइकल का साहस आपके इस चौकीदार की सरकार ने दिखाया है।

हमारी सेना ने 26 फरवरी को जो एयर स्ट्राइक की थी, अगर उसमें कोई चूक होती तो ये लोग मेरा इस्तीफा मांगते, पुतला जलाते। मैं 130 करोड़ देशवासियों से पूछना चाहता हूं कि हमें सबूत चाहिए या सपूत चाहिए। जो सबूत मांगते हैं वो सपूत को ललकारते हैं।

उल्लेखनीय है कि मोदी ने एक दिन पहले ही घोषणा की थी कि भारत ने एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराते हुए उपग्रह भेदी मिसाइल क्षमता का प्रदर्शन किया है।मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए कहा, मैं हम सभी के चौधरी चरण सिंह जी को मैं नमन करता हूं। चरण सिंह जी ने देश के लिए अहम योगदान दिया। चौधरी जी देश के उन सपूतों में से हैं, जिन्होंने देश की राजनीति को खेत-खलिहान पर ध्यान देने के लिए मजबूर किया।

उल्लेखनीय है कि चौधरी चरण सिंह के पुत्र अजित सिंह की पार्टी रालोद ने इस चुनाव में बसपा और सपा के साथ गठबंधन किया है। मोदी ने कहा, 2019 के चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत मेरठ से करने की एक खास वजह है। इसी मेरठ से 1857 में स्वतंत्रता के आंदोलन का पहला बिगुला फूंका गया था। उन्होंने कहा, मैं चौकीदार हूं। चौकीदार कभी नाइंसाफी नहीं करता। हिसाब होगा। सबका होगा। बारी-बारी से होगा । मैंने जो काम किया है, मैं उसका हिसाब दूंगा और साथ में दूसरों से भी हिसाब लूंगा।

प्रदेश के सपा-बसपा गठबंधन पर प्रहार करते हुये उन्होंने कहा कि बहन जी (मायावती) ने जिस पार्टी के नेताओं को जेल भेजने के लिए जीवन के दो दशक लगा दिए, अब उन्होंने उसी पार्टी के लोगों से हाथ मिला लिया।राहुल गांधी द्वारा कल विश्व रंगमंच दिवस की बधाई दिए जाने पर तंज करते हुये मोदी ने कहा कि कोई रंगमंच में नाटक देखने जाता है तो वहां क्या देखने को मिलता है? वहां सेट शब्द बड़ा आम होता है। यह शब्द वहां बार-बार इस्तेमाल होता है। कुछ बुद्धिमान लोग ऐसे हैं जब मैं ए-सैट की बात करता था, तो वे समझे कि मैं रंगमंच के सेट की बात कर रहा हूं।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मिशन शक्ति की सफलता के लिए डीआरडीओ की बुधवार को सराहना की थी और राष्ट्र के नाम संबोधन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा था कि वह मोदी को विश्व रंगमंच दिवस की बधाई देते हैं।

Back to top button