मन में गाठें हैं फिर भी कर रहे गठबंधन : राजनाथ सिंह

जालौन : गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि जिनके मन में गाठें हैं, फिर भी वो गठबंधन कर रहे हैं। यह लोग मोदी को रोकने के लिए एकजुट हुए हैं लेकिन चुनाव बाद अपनी-अपनी ढपली अपना-अपना राग गाने लगेंगे। वह शनिवार को जालौन गरौठा लोकसभा क्षेत्र के कालपी में भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बुंदेलखंड के किसानों की दुखती रग पर हाथ रखते हुए कहा कि केवल भाजपा ही उनकी हमदर्द है। अभी सीमांत किसानों के खाते में छह हजार रुपये आ रहे हैं, प्रयास है कि हर किसान के खाते में रकम भेजी जाए। पार्टी के घोषणा पत्र में शामिल किया गया है कि किसान क्रेडिट कार्ड से जो कर्ज लेते हैं, उसमें ब्याज नहीं लगेगा। एक लाख रुपये पांच साल के लिए बिना ब्याज पर दिए जाएंगे। 60 साल पूूरे करने वाले किसानों और छोटे दुकानदारों को हर माह तीन हजार रुपये पेंशन दी जाएगी।

पुलवामा में हुए आतंकी हमले का हवाला देते हुए कहा कि आज भारत दुनिया के ताकतवर देशों में एक है। कश्मीर में जवानों की शहादत का हमने पाक की धरती पर बदला लिया, आतंकियों का सफाया कर दिया। कहा कि 2008 में मुंबई के ताज होटल पर आतंकी हमला हुआ था, काफी लोग मारे गए थे। उस समय मनमोहन सरकार थी, उसने क्या किया, सबने देखा। एयर स्ट्राइक पर नरेन्द्र मोदी की जय-जयकार का विरोध करने वालों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि 1971 के युद्ध में पाक दो टुकड़े हुए। उस समय हमारे नेता अटल बिहारी वाजपेयी ने इंदिरा गांधी की प्रशंसा की थी, तो मोदी की जय-जयकार क्यों नहीं हो सकती है।

एंटी सेटेलाइट को लेकर राजनाथ ने कहा कि हमारे वैज्ञानिकों ने इसे 2007 में ही तैयार कर लिया था, उस समय यह ताकत रूस, अमेरिका और चीन के पास थी। उस समय मनमोहन सिंह ने इसे रोक दिया कि कहीं रूस, चीन और अमेरिका नाराज न हो जाए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वैज्ञानिकों से कहा कि आगे बढ़ो, आज हमारे पास वह ताकत है कि किसी भी दुश्मन देश की सेटेलाइट को आकाश में टुकड़े-टुकड़े कर सकते हैं।

सबको साथ लेकर चलने का संदेश देते हुए कहा कि हम इंसान-इंसान में फर्क नहीं कर सकते हैं, सभी भारतवासी एक हैं। प्रत्याशी को सबके दरवाजे पर जाना होगा, भले ही वह वोट नहीं दें। आज नहीं तो कल, उनकी मानसिकता में बदलाव आएगा। भाजपा को विश्वसनीय पार्टी बताते हुए कहा कि विश्वसनीय नेता नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाना है।

Back to top button