राष्ट्रीय

ड्राइव करते समय ब्रेक फेल होने पर मात्र 8 सेकंड में रोकें कार, जानिए ट्रिक

आइये जानते हैं कार के ब्रेक फेल होने पर आपको क्या करना चाहिए.

सड़क पर रफ्तार से दौड़ती कार अक्सर ब्रेक फेल होने की वजह से दुर्घटना की शिकार होती हैं. एक्सप्रेस वे पर 80 से 100 किमी की रफ्तार से कार चलती है दूसरे वाहन से डिस्टेंस भी काफी कम होता है ऐसे में अगर आपकी कार के ब्रेक काम न करें तो सोचिए आपकी क्या हालत होगी. ऐसी स्थिति में अच्छे से अच्छे ड्राइवर का दिमाग भी काम नहीं करता, लेकिन ऐसी कंडीशन में आपको होश खोने की बजाय समझदारी से काम लेना चाहिए. आप चाहें तो ब्रेक फेल होने के बाद भी अपनी कार को सिर्फ 8 सेकंड में कंट्रोल कर सकते हैं. आइये जानते हैं कार के ब्रेक फेल होने पर आपको क्या करना चाहिए.

ब्रेक फेल होने के संकेत समझें

जब भी आप ड्राइविंग करें अपनी कार पर पूरा ध्यान दें. आमतौर पर ब्रेक फेल होने से पहले ही आपकी गाड़ी कुछ संकेत देने लगती है. कई बार हम इसे नजरअंदाज कर देते हैं, जो जान पर भारी पड़ सकती है.

1- ब्रेक लगाने पर ब्रेक पैड आवाज करने लगते हैं
2- कई बार ब्रेक कैलिपर्स जाम होने लगते हैं
3- अचानक ब्रेक वायर टूट जाती है या फिर मास्टर सिलंडर लीक होने लगता है और ब्रेक्स को जरूरी दबाव नहीं मिल पाता
4- ब्रेक फ्यूल लीक होना भी ब्रेक फेल होने का संकेत देता है.
5- ब्रेक फ्यूल लीक होने पर डैशलाइट पर वार्निंग लैंप भी जलने लगते हैं

ब्रेक फेल होने के बाद ऐसे रोके कार

अगर आपकी कार के ब्रेक फेल हो गए हैं तो ऐसे वक्त में आपको समझदारी से काम लेना है. आप इन टिप्स को ध्यान से पढ़ लें.

1- सबसे पहले कार की स्पीड को कम करके उसे कंट्रोल करें और बार-बार ब्रेक पैडल पर पांव मारें. कई बार ऐसा करने से ब्रेक्स को सही प्रेशर मिलता है और ब्रेक काम करने लगते हैं.

2- अगर कार टॉप गियर में चल रही है, तो उसे लोवर गियर में लेकर आएं. कोशिश करें पहले गियर में लाने की.

3- ध्यान रखें घबराहट में सीधे पांचवे से पहले गियर में बिल्कुल न लाएं. न्यूट्रल में बिल्कुल भी न चलाएं क्योंकि इससे आप कार का कंट्रोल खो सकते हैं.

4- भूलकर रिवर्स गियर न लगाएं. इससे पीछे आ रहा वाहन हादसे का शिकार हो सकता हैं और आपको भी खतरा है.

5- आप सिर्फ क्लच का इस्तेमाल करें, एक्सलेटर का बिल्कुल भी इस्तेमाल न करें.

6- आप कहीं ट्रैफिक में हैं, तो दूसरों हॉर्न, हैजार्ड लाइट्स, इंडीकेटर और हेडलैंप्स-डिपर से इशारा करें. इससे खतरा कम होगा.

7- एक्सपर्ट का कहना है कि ऐसी स्थिति में गाड़ी का एयरकंडीशन ऑन कर लें. इससे इंजन पर दबाव बढ़ेगा और स्पीड थोड़ी कम होगी.

8- एक्सपर्ट का कहना है कि हेडलाइट्स, हैजार्ड लाइट्स जलाने से बैटरी की पावर सप्लाई कम होगी और कार धीमे हो जाएगी.

9- अगर पास में रेत या मिट्टी हो, तो स्टीयरिंग व्हील पर कंट्रोल करते हुए रेत या बजरी पर गाड़ी चढ़ा दें. इससे कार की स्पीड काफी कम हो जाएगी.

10- आप सही से हैंडब्रेक का इस्तेमाल करें मैनुअल हैंडब्रेक वाली कार में गियर बदलते समय हल्के हैंडब्रेक का इस्तेमाल करें.

11- कार के पहले गियर में आने पर जब स्पीड 40 किमी प्रति घंटा के आसपास हो, तो आप सीधे हैंडब्रेक खींच कर रफ्तार को काबू कर सकते हैं.

12- हाईस्पीड में एकदम से हैंडब्रेक न लगाएं, अचानक हैंडब्रेक लगाने से पिछले पहिये लॉक हो जाते हैं और कार के पलटने का खतरा बढ़ जाता है

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button