आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर होगी सख्त कार्रवाई 

उड़नदस्ता और स्थैतिक निगरानी दलों को मुस्तैद रहने के निर्देश

रायपुर: रायपुर लोकसभा के लिए आगामी 23 अप्रैल को वोटिंग होगी। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. बसवराजु एस. ने कहा है कि अंतिम दिनों में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की संभावनाओं को देखते हुए तैनात सभी उड़नदस्ता और स्थैतिक निगरानी दलों पूरी तरह मुस्तैद रहे तथा कहीं भी इसका उल्लंघन पाए जाने पर सीधे संबंधितों के खिलाफ थाने में एफआईआर करायी जाए। डॉ. बसवराजु ने सभी सहायक रिटर्निंग अधिकारियों को भी आकस्मिक रूप से दलों की निगरानी करने के निर्देश दिए। रायपुर लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों के संबंध में कलेक्टोरेट परिसर स्थित रेडक्रॉस सभाकक्ष में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त सामान्य प्रेक्षक केशव कुमार पाठक व चन्द्रशेखर, पुलिस प्रेक्षक रंजीत मिश्रा, व्यय प्रेक्षक कुमार अजीत व विवेकानंद राजेन्द्र जाधवर की उपस्थिति में समीक्षा बैठक आयोजित हुई। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख, नगर निगम आयुक्त शिव अनंत तायल सहित सभी सहायक रिटर्निंग अधिकारी व नोडल अधिकारी भी उपस्थित थे।

कलेक्टर डॉ. बसवराजु एस. ने बताया कि जिले में 15 लाख 20 हजार 326 मतदाता पर्चियां बट चुकीं हैं। शेष बची मतदाता पर्ची तीन दिनों में बांट दी जाएगी। यदि किसी को मतदाता पर्ची प्राप्त नही होती है वो वह कन्ट्रोल रूम के दूरभाष नंबर 0771-2445785 में जानकारी प्राप्त कर सकते है। उन्होंने निर्वाचन के संबंध तैयारियों की समीक्षा के दौरान बताया गया कि हर मतदान केन्द्र में एक दिव्यांग सहायक उपलब्ध कराया जाएगा। इस हेतु एक प्रशिक्षित मितानिन के साथ ही शहरी क्षेत्रों में एनसीसी कैडेट और एनएसएस दिव्यांगों की मदद के लिए तैनात रहेंगे। दिव्यांग मतदाताओं को उपलब्धता के आधार पर मतदान केन्द्र आने जाने के ले छोटे वाहन उपलब्ध कराए जाएंगे। जिले में 1005 नेत्रहीन मतदाताओं के लिए ब्रेल लिपि वाले पहचान पत्र (ईपीक कार्ड) वितरित किए गए हैं।

सभी मतदान केन्द्रों के लिए ईवीएम व वीवीपैट मशीनों के रेण्डामाईजेशन के बाद कमीशनिंग का कार्य पूरा कर इसे स्ट्रांग रुम में सील कर दिया गया है। प्रेक्षकों ने कहा कि आदर्श आचार संहिता के उल्लघंन के संबंध में नजर रखी जाए तथा फ्लाईंग स्कवाड और स्थैतिक निगरानी दल पूरी सर्तकता के साथ कार्य करे तथा हर दिन की गई कार्रवाई की रिपोर्ट प्रेक्षकों को प्रस्तुत की जाए। किसी भी प्रकार के उल्ल्घंन के मामले में तुरंत एफआईआर कराई जाए। बैठक में बताया गया कि प्रत्याशियों को विभिन्न प्रकार की अनुमतियों के संबंध एक घंटे के अन्दर अनुमति दी जा रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख ने बताया कि जिले में 6 अपराधी किस्म के लोगों को जिला बदर करने की कार्रवाई की गई है। इसके अतिरिक्त धारा 107, 116 तथा 151 के अंतर्गत लगातार कार्रवाई की जा रही है।

Back to top button