कोचियों की अवैध धान बिक्री पर रोक लगाकर कार्यवाही करने का दिए सख्त निर्देश

उपार्जन केंद्र में निरीक्षण करने पहुंचे ग्राम पंचायत सचिव,पटवारी व कोतवाल

पीपरछेड़ी/बालोद।

जिले के अधिकांश उपार्जन केन्द्रों में कोचियो द्वारा अवैध धान बिक्री किए जाते थे।जिनकी रोकथाम के लिए जिला प्रशासन व खाद्य विभाग ने जांच हेतु पटवारी,सचिव व कोतवाल को निर्देश दिए थे जिसके तहत उक्त कर्मचारियों ने गुरुवार को सेवा सहकारी समिति पीपरछेड़ी के उपार्जन केंद्र का औचक निरीक्षण किया।तथा उपस्थित किसानों व सेवा सहकारी समिति के प्रबंधक से चर्चा करते हुए टोकन कि जांच की जिसमे सभी स्वतंत्र किसान पाए गए।

ज्ञात हो कि कोचियों के द्वारा किसानों से कम कीमत पर धान खरीदी कर अधिक रुपयों व बोनस की लालच में धान उपार्जन कन्द्रों पर धान बेचते थे तथा धान बेचने के लिए पहचान वाले किसान देखकर उन्हीं के खाते पर अधिक धान बेचे जाते थे जिन मामलों को संज्ञान में लेते हुए जिला प्रशासन व खाद्य विभाग ने ग्राम पंचायत सचिव,पटवारी व कोतवाल को आदेशित कर उपार्जन केन्द्र प्रतिदिन निरीक्षण करने का आदेश दिए थे।

उसी के आधार पर औचक निरीक्षण किया लेकिन एक भी कोचिया पकड़ पर नहीं आया। इस दौरान सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष यशवंत,पवन यादव, पोषण साहू, पुरुषोत्तम साहू,नोहर साहू,विजेश साहू, लखन लाल,सेवती बाई व अन्य किसान भी मौजूद रहे।

मच गई थी हलबली

उपार्जन केन्द्र में ग्राम पंचायत सचिव,पटवारी व कोटवार को एक साथ पहुंचते देख किसानों में हलबली मच गई थी उनके मन में तरह तरह की बाते उत्पन्न हो रही थी।तभी जांच अधिकारियों के द्वारा किसानों को जानकारी दी गई कि कोचियों के द्वारा अवैध तरीके से धान बिक्री की रोकथाम के लिए निरीक्षण किया जा रहा हैं।

1
Back to top button