अवैध तरीके से धान परिवहन, भण्डारण और बिक्री को रोकने कड़ी निगरानी

तीन प्रकरणों में जब्त किया गया 207 कट्टा धान

हितेश दीक्षित

छुरा/गरियाबंद।

अवैध तरीके से धान परिवहन, भण्डारण और बिक्री को रोकने के लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही है। निरीक्षण के दौरान आज फिर एसडीएम गरियाबंद बी.आर साहू द्वारा विकासखण्ड छुरा के अंतर्गत ग्राम रसेला स्थित धान उपार्जन केन्द्र में गरियाबंद के व्यापारी द्वारा मेटाडोर में लाये गये 100 कट्टा धान की जब्ती की कार्यवाही की गई।

एसडीएम साहू ने बताया कि गरियाबंद के व्यापारी श्री शफीख कुरैशी मेटाडोर वाहन क्रमांक सीजी 04 जेबी 8730 में 100 कट्टा मोटा धान भरकर बिक्री के लिए धान उपार्जन केन्द्र रसेला लाये थे।

व्यापारी ने बताया कि उन्होंने धान मेड़की डबरी से लाया है, लेकिन जांच में पाया गया कि ऋण पुस्तिका किसी और किसान का एवं टोकन किसी अन्य किसान का था। पूछताछ में उक्त धान किसानों का होना नहीं पाया गया। इस पर एसडीएम ने मौके पर मण्डी अधिनियम के तहत पंचनामा तैयार कर 100 कट्टा धान की जब्ती की कार्यवाही की और जब्त धान थाना प्रभारी छुरा के सुपुर्द किया गया।

इसी तरह छुरा तहसीलदार पार्वती पटेल ने भी आज सवेरे धान उपार्जन केन्द्र दुल्ला में अवैध तरीके से कोसमबुड़ा का धान लाने के कारण 47 कट्टा धान एवं वाहन महेन्द्रा पिकअप क्रमांक सीजी 04 जेडी 7857 को जब्त किया। यह धान वाहन चालक केशव कुमार पिता रामसिंह द्वारा लाया गया था।

आज सवेरे ही ग्राम मुड़ागांव के धान को अवैध तरीके से दुल्ला धान उपार्जन केन्द्र में बिक्री हेतु लाने के एक और मामले में भी तहसीलदार पार्वती पटेल द्वारा जब्ती की कार्यवाही की गई। मुड़ागांव के प्रकरण में वाहन महेन्द्रा पिकअप क्रमांक सीजी 04 जे 3885 में वाहन चालक शिव शंकर पिता प्रेमसिंह द्वारा 60 कट्टा धान बिक्री के लिए लाया गया था। इस धान का मालिक मनहरण/ अमर सिंह गोंड़ बताया गया।

1
Back to top button