छत्तीसगढ़

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का जोरदार प्रदर्शन, कलेक्ट्रेट परिसर के गेट में दिया धरना

अरविन्द शर्मा:

कोरबा: राष्ट्रीय गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने आज विशाल जनसमूह व पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ जिला कलेक्ट्रेट पहुँच कर जमकर नारेबाजी करते हुए कई मांगों को लेकर ज़िलाधीश महोदया को ज्ञापन सौपा है।इस विशाल रैली में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित पार्टी के पदाधिकारी व बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने कटघोरा वनमंडलाधिकारी के गम्भीर शिकायतें जिलाधीश कोरबा को लिखित में दी है तथा डीएफओ शमा फारूकी के खिलाफ न्यायिक जांच कराने की मांग की है।ज्ञापन में 13 सूत्रीय मांगों को लेकर जल्द से जल्द निराकरण करने की भी मांग की है।

आज सोमवार को गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय तुलेश्वर सिंह मरकाम जी के अगुवाई में पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं सहित बड़ी संख्या में जनसमूह ने जिला कलेक्ट्रेट परिसर के गेट में जमकर नारेबाजी करते हुए घेराव कर दिया।पार्टी ने 13 सूत्रीय मांगों को लेकर जिलाधीश महोदया श्रीमती किरण कौशल को ज्ञापन सौपे है।

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी पिछले दो माह से कटघोरा डीएफओ को हटाने की मांग कर रही है।डीएफओ के खिलाफ कई मर्तबा आवेदन व आंदोलन हुआ पर डीएफओ पर उनका कोई असर नही हुआ।लिहाजा गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने जिलाधीश महोदया को इनके कारनामो का लिखित ज्ञापन सौपा है।

पार्टी के अनुसार डीएफओ शमा फारूकी ने बिना कार्य के फर्जी बिल बनाकर 94 लाख रुपये का आहरण कर लिया है जो कि भ्रष्टाचार की बड़ी मिशाल है।पार्टी पदाधिकारियों ने यह भी बताया कि शमा फारूकी की कार्यशैली से कटघोरा वन मण्डल आएदिन सुर्खियों का विषय बना रहता है।

पार्टी के प्रदेश सचिव माननीय लाल बहादुर कोर्राम जी ने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा,””’यह हमारा आंदोलन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भईया तुलेश्वर सिंह मरकाम जी की अगुवाई व निर्देशानुसार हो रहा है जिसमे कटघोरा डीएफओ शमा फारूकी को हटाने की प्रमुख मांग के साथ साथ हमारे ज्ञापन देने के बाद हमारी 80 वर्षीय धरम कुँवर मरपच्ची जी को प्रशासन ने गलत तरीके से तथा इनके साथ दिनेश कौशिक जो कि देश का जवान है जिन्होंने अपने जीवन के 18 साल देश को दे दिए,उन्हें दीपका पुलिस द्वारा फर्जी पत्रक बनाकर जेल दाखिल किया गया है।

हमारा यह आंदोलन इन्हें निशर्त छोड़ने के साथ 13 सूत्रीय मांगों को लेकर है।जिला कलेक्टर महोदया को यह हमारा अंतिम आवेदन है जिसमे हमने उनसे सात दिवस के भीतर निराकरण करने की मांग की है फिर भी हमारी मांगे पूरी नही होंगी तो हम अपने तरीके से निराकरण जानते हैं।15 दिवस के भीतर कटघोरा डीएफओ को नही हटाया जाता है तो डीएफओ कार्यालय में ताला जड़ दिया जाएगा और पूरे जिले में पार्टी की योजनानुसार आर्थिक नाकेबंदी की जाएगी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button