अंतर्राष्ट्रीय

तेज हवाओं और मूसलाधार बारिश में कम से कम 13 लोगों की मौत

100 घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइटों को भी रद्द करना पड़ा

मनीला: दुनिया के सबसे आपदाग्रस्त देशों में से एक फिलीपींस, जिसकी वजह इसका पेसिफिक रिंग ऑफ फायर और पेसिफिक टायफून बेल्ट में स्थित होना है. बारिश के दिनों में खासकर तूफान के आने पर यहां भूस्खलन और बाढ़ का आना बेहद आम है.

वहीं यहाँ तेज हवाओं और मूसलाधार बारिश में कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई है. फिलीपींस के आंतरिक और स्थानीय प्रशासन विभाग ने कहा कि इस तूफान से यहां के इलोइलो प्रांत में नौ, कैपिज में चार लोग मारा गया है. वहीं छह व्यक्ति लापता बताए जा रहे हैं.

100 घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइटों को भी रद्द करना पड़ा है. 16 हजार समुद्र यात्री, 14, 00 रोलिंग कारगो और 41 फेरियों को भी तूफान के चलते रोका गया है.

एनडीआरआरएमसी ने गुरुवार सुबह कहा कि सभी समुद्री जहाजों का संचालन फिर से शुरू किया गया है. हालांकि, अकलान प्रांत में बोराके द्वीप रिसॉर्ट से अन्य स्थानों के लिए उड़ानें रद्द कर दी गई हैं. यहां हवाईअड्डे की छत क्षतिग्रस्त हो गई है.

फिलीपींस के राष्ट्रीय आपदा जोखिम न्यूनीकरण और प्रबंधन परिषद (एनडीआरआरएमसी) ने कहा कि मध्य फिलीपींस और उत्तरी मिंडानाओ क्षेत्र में स्थित 38 गांवों में करीब 2,400 लोगों की जिंदगी इस तूफान से बुरी तरह तरह प्रभावित हुई है.

Tags
Back to top button