सब-इंस्पेक्टर ने युवक को जमकर पीटा, पूछताछ के दौरान पिलाया पेशाब

दलित युवक ने पुलिस पर लगाया बर्बरता का आरोप

चिकमंगलूर:कर्नाटक के चिकमंगलूर में गोनीबीड़ू पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर ने युवक को थाने के अंदर पहले जमकर पीटा और फिर पूछताछ के दौरान उसे पेशाब पिलाया. युवक ने इसकी शिकायत राज्य के डीजीपी से की है.

बता दें कि गोनीबीड़ू पुलिस थाना क्षेत्र के पुनीत ने सब इंस्पेक्टर पर आरोप लगाया कि उसने थाने में पूछताछ के दौरान उसे पेशाब पिलाया. पुनीत ने अब राज्य के पुलिस प्रमुख डीजीपी प्रवीण सूद को पत्र लिखकर इस तरह के अमानवीय कृत्य पर न्याय की मांग की है.

पुनीत ने आरोप लगाया कि गोनीबीड़ू पुलिस ने उसे 10 मई को केवल ग्रामीणों की मौखिक शिकायतों के आधार पर हिरासत में लिया था. उस पर आरोप लगा कि वह एक महिला से बात कर रहा था और इससे गांव वाले नाराज हो गए.

पुनीत ने कहा कि मुझे थाने ले जाया गया और पीटा गया और मेरे हाथ-पैर बांध दिए गए. मैं प्यासा था, पानी मांग रहा था, प्यास से मरने जैसी हालत हो गई. लेकिन उन्होंने (पुलिसकर्मी) चेतन नाम के एक दूसरे आरोपी को मुझ पर पेशाब करने के लिए बुला लिया.

पुनीत ने आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने थाने से छोड़ने के बदले मुझे पेशाब को फर्श से चाटने के लिए कहा, मैंने वैसा ही किया और बाहर आया. पुलिस ने मुझे पीटते हुए मेरे दलित समुदाय को गाली भी दी.

चिकमंगलूर जिले के एसपी ने इस पर गंभीरता से संज्ञान लेते हुए सब-इंस्पेक्टर के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए हैं. एसपी ने कहा कि सब इंस्पेक्टर को अभी दूसरे थाने में ट्रांसफर किया गया है और DYSP इस मामले की जांच कर रहे हैं. पुनीत के बयान के आधार पर सब इंस्पेक्टर के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button