डिप्टी कलेक्टर और बीपी शांडिल्य को दी गई भावभीनी विदाई

अम्बिकापुर।

डिप्टी कलेक्टर आरएन सिंह एवं सहायक ग्रेड-2 विष्णु प्रसाद शांडिल्य के सेवानिवृत्त होने पर शनिवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित समारोह में शाल एवं श्रीफल से सम्मानित कर भावभीनी विदाई दी गई।
समारोह को सम्बोधित करते हुए कलेक्टर किरण कौषल ने कहा कि आरएन सिंह शांत एवं सौम्य स्वभाव के अधिकारी रहें हैं।
वे अपने कर्तव्यों का निर्वहन बड़ी तन्मयता एवं सक्रियता के साथ करने में विश्वास रखते हैं। आज भी कार्य के प्रति उनमें गजब की फूर्ति देखने को मिलती है।

उन्होंने कहा कि आज के युवा अधिकारियों को श्री सिंह के आचरण एवं कार्य शैली को अनुकरण करना चाहिए। उन्होंने आरएन सिंह एवं विष्णु प्रसाद शांडिल्य के दीघार्यु एवं सुखद जीवन की कामना की। जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता गांधी ने कहा कि सेवानिवृत शासकीय सेवा का अभिन्न भाग है, जिसमें प्रत्येक अधिकारी एवं कर्मचारी को एक निष्चित सेवा अवधि के पष्चात शासकीय सेवा से निवृत्त होना होता है। उन्होंने श्री सिंह एवं श्री शांडिल्य के सुखद एवं सेहतमंद जीवन की कामना की।

अपर कलेक्टर निर्मल तिग्गा ने कहा कि आरएन सिंह अपने दायित्वों को बड़ी सक्रियता और लगनषीलता के साथ सम्पन्न करते हैं, अपने कार्य को सूक्ष्मता से करने के साथ ही अधीनस्थों को भी बेहतर कार्य के लिए प्रेरित करते हैं। उन्होंने श्री सिंह एवं श्री शांडिल्य को सुखद एवं दीघार्यु तथा निरोगी जीवन की कामना की।

इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर आरएन सिंह ने कहा कि सन 1976 में द्वितीय श्रेणी लिपिक के पद पर इसी कलेक्टोरेट कार्यालय में अपनी प्रथम नियुक्ति पर सेवा प्रारंभ किया था तथा आज डिप्टी कलेक्टर के पद से सेवानिवृत्त यहीं से होना मेरे लिए गर्व की बात है।

उन्होंने कहा कि दिए गए दायित्वों का निष्ठापूर्वक निर्वहन करना ही सबसे बड़ी सेवा मानता हूूं।
इस अवसर पर अपर कलेक्टर चन्द्रकांता धु्रव, अम्बिकापुर के अनुविभागीय राजस्व अधिकारी अजय त्रिपाठी, उदयपुर के अनुविभागीय राजस्व अधिकारी प्रभाकर पाण्डेय सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Back to top button