छत्तीसगढ़

राजभवन में बच्चों के लिए ग्रीष्मकालीन शिविर

बच्चों ने राज्यपाल से कहा : शिविर में शामिल होने पर मिला नया अनुभव

रायपुर : राजभवन में चल रहे 15 दिवसीय ग्रीष्मकालीन शिविर में दूसरे दिन राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल बच्चों के बीच आज सुबह स्वयं पहुंची। उन्होंने बच्चों से पूछा- उन्हें शिविर में शामिल होकर कैसा महसूस हो रहा है ? वे सुबह कितने बजे उठकर शिविर में पहुंच रहे हैं ?

शिविर में शामिल बच्चों ने राज्यपाल से कहा कि उन्हें नया अनुभव मिला है और बहुत अच्छा महसूस हो रहा है। वे ऐसी कलाकृति बनाना सीख रहे हैं, जिसे वे किसी दुकान में खरीदने जाते थे या किसी होटल या शॉपिंग मॉल में प्रदर्शित होते देखते थे। अब तो उनकी नींद ही गायब हो गई हैै। वे पहले देर सुबह सो कर उठते थे अब प्रातः सूर्योदय के समय ही नींद खुल जाती है और नित्य कर्म पूर्ण कर तुरंत शिविर में पहुंच जाते हैं।

राज्यपाल ने चित्रकारी, बेस्ट आउट ऑफ वेस्ट, रंगोली और मूर्ति कला के प्रशिक्षण स्थलों का निरीक्षण किया। उन्होंने प्रशिक्षणकर्ता से कहा कि बच्चों को भगवान गणेश तथा विभिन्न देवी-देवताओं की मूर्ति बनाना सिखाएं और गणेश उत्सव नवरात्रि के समय बच्चों द्वारा बनाई गई मूर्तियों को आम जनता को उपलब्ध कराएं।

इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव श्री सुरेन्द्र कुमार जायसवाल, उप सचिव श्रीमती रोक्तिमा यादव, मध्यप्रदेश राजभवन के उपसचिव श्री केयूर संपत, राज्यपाल के परिसहायद्वय श्री अनंत श्रीवास्तव, श्री भोजराज पटेल, नियंत्रक श्री हरबंश मिरी भी उपस्थित थे।

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: