गर्मी के मौसम में पहने ऐसे कपड़े

मौसम के बदलते मिजाज के साथ-साथ आपका ड्रेसिंग सेंस भी बदल जाता है। गर्मी के आते-आते अलमारी में रखे गर्म कपड़े की जगह ठंडक देने वाले रंग-बिरंगे कपड़े आ जाते हैं। युवा चाहते हैं इस गर्मी में कुछ ऐसा पहनें जो हमें गर्मी से थोड़ा राहत देने के साथ-साथ आकर्षित भी दिखे।

ना पहनें हेवी वर्क
कॉटन, शिफान के ड्रेसेस फॉर्मल लुक के लिए पहने जाते हैं जो अच्छे लगते हैं। इस मौसम में लिनन और जॉरजट के लांग स्कर्ट पहनें। कॉटन हेंडलूम व खादी ठंडक पहुंचाने वाले व पसीना सोखने वाले फेब्रिक हैं जिससे आप तपती गर्मी में भी अच्छा महसूस करते हैं। बुजुर्ग महिलाएं सलवार कमीज पहनें। खादी का कुरता स्टाइल से पहने जो ढीला हो उसके साथ ही चूड़ीदार सलवार पहनें। इस मौसम में कली वाले कुरते अनारकली पेटर्न में अलग-अलग प्रिंट के साथ पहने जा सकते हैं।

ढीले कपड़े पहनें
गर्मी के कपड़ों की फिटिंग करवाते वक्त हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि टाइट फिटिंग वाले कपड़ों में भले ही आपका फिगर अच्छा दिखे, पर आपको उन कपड़ों में आराम नहीं महसूस होगा। गर्मी के मौसम में पसीने के कारण चिपके कपड़ों से बुरा कुछ और नहीं हो सकता है। टाइट फिटिंग वाले कपड़े पहनने पर पसीना भी ज्यादा निकलता है।

कलर का रखें ध्यान
गर्मियों में हमेशा ड्रेस के मटेरियल के साथ उसके कलर पर भी ध्यान देना जरूरी है। मौसम में ड्रेसेस हल्के रंगों के होने चाहिए जो आंखों को ठंडक दें। कॉटन मिक्स सिल्क, शिफॉन, लिनन, जॉरजट व हैंडलूम और खादी से बने वस्त्रों को पहनें जो पसीने को सोख लेते हैं। फैशन के लिहाज से देखा जाए तो एक दुबली लड़की पर आड़ी लाईन वाले शॉर्ट कुर्ती व छोटी कद-काठी वाली लड़कियों को आड़ी लाइन वाले कुर्ते खासे फबते हैं। गर्मी से बचने के लिए अधिकतर लड़कियां स्लीवलेस ड्रेस पहनना पसंद करती हैं लेकिन इससे धूप में हाथों की त्वचा जल सकती है। दोपहर में हमेशा ऐसी ड्रेस पहने जो कॉटन और फुल स्लीव्ज की हो। रात को आप चाहें तो स्लीवलेस पहन सकते हैं।

कलर का रखें ध्यान

जो सहज हो वही पहनें
गर्मी में फैशन कूल होना चाहिए। ज्यादा ब्राइट कलर ना पहनें व लिनन व कॉटन के कपडों को इस्तेमाल करें। कॉटन के प्रिंट, कुशन, साधारण क्रोशिया वाली डिजाइन के फेब्रिक इस मौसम के लिए बेहतर हैं। अधिकतर गर्मी में ब्रश पेटिंग व डाई पेटिंग के ड्रेसेस चलते हैं। युवाओं को अपने आराम के हिसाब से कॉटन पेंट व सलवार कमीज, कॉटन सूट, अनारकली सूट्स पहनना चाहिए।

हो जाता है त्वचा रोग
गर्मी बहुत से बदलाव लेकर आती है। लोगों के पहनावे से लेकर पूरी दिनचर्या बदलने लगती है। सही ज्ञान न होने पर कुछ भी पहनना त्वचा के लिए हानिकारक हो सकता है। गर्मी में घेरदार कुरते, जॉरजट व शिफॉन पर की गई फ्लोरल प्रिंट, कॉटन सिल्क, टसर का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता हैं। गर्मी में खासतौर से ब्लॉक प्रिंट, वेजीटेबल, कॉटन मिक्स लिनन फेब्रिक का इस्तेमाल किया जाता है।

स्टाइल के लिए करें एक्सपेरिमेंट
एक्सपेरिमेंट करने से नहीं डरें। गर्मी ऐसा मौसम है, जब कपड़ों के मामले में आप धड़ल्ले से तरह-तरह का एक्सपेरिमेंट कर सकती हैं। आंख मूंद कर फैशन ट्रेंड को अपनाना कोई बुद्धिमानी नहीं है। एक्सपेरिमेंट करें, पर साथ ही ध्यान रखें कि वह एक्सपेरिमेंट आप पर अच्छा भी दिखे। कैप्री के साथ कुर्ता या फिर ढीली फिटिंग वाली पैंट के साथ कॉटन की शर्ट आपको आकर्षक लुक देगी।

इनसे रहे दूर
सिल्क, साटन, सिन्थेटिक, कोलेस्टर मिक्स, नायलॉन, वेलवेट कपड़ों से इन्फेक्शन होता है। हेवी फेब्रिक के कपड़े न पहनें जिसे संभालना मुश्किल हो।

Back to top button