सुप्रीम कोर्ट का फैसला, जस्टिस लोया मामले में एसआईटी जाँच की मांग, याचिका ख़ारिज

सुप्रीम कोर्ट ने कहा की चार जजों के बयान पर संदेह का कोई भी कारण नहीं है

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने जस्टिस लोया मामले की सुनवाई करते बड़ा फैसला सुनाया हैं. फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा है की इस मामले में अब कोई जाँच नहीं होगी. एसआईटी जाँच के लिए दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा की चार जजों के बयान पर संदेह का कोई भी कारण नहीं है.

आपको बता दे की जस्टिस लोया की मौत की एसआईटी जाँच की मांग कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला, पत्रकार बीएस लोने, बांबे लॉयर्स एसोसिएशन सहित अन्य कई पक्षकारों ने की थी. जब जस्टिस लोया की बहन ने भाई की मौत को लेकर सवाल खड़े किये थे. जस्टिस लोया सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर मामले की सुनवाई कर रहे थे. और इस मामले में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारी आरोपी थे.

बता दे की लोया नागपुर में अपने सहकर्मी की बेटी की शादी में शामिल होने गए थे, लेकिन उसी रात उनकी मौत हो गई। बताया गया कि जज लोया की मौत दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुई, लेकिन उनके केस से जुड़े होने के बाद शक बढ़ने लगा था। और एसआईटी जाँच के लिए याचिका दायर की गई थी. जिस पर आज सुनवाई करते सुप्रीम कोर्ट दायर याचिका को ख़ारिज कर दिया.

Back to top button