सुप्रीम कोर्ट : रजनीकांत की पत्नी लता को ब्याज समेत 6.20 करोड़ रुपए ऐड ब्यूरो कंपनी को चुकाने के आदेश दिए हैं

सुप्रीम कोर्ट ने सुपरस्टार रजनीकांत की पत्नी लता को ब्याज समेत 6.20 करोड़ रुपए ऐड ब्यूरो कंपनी को चुकाने के आदेश दिए हैं। इसके लिए 12 हफ्ते का वक्त दिया गया है।

सुप्रीम कोर्ट ने सुपरस्टार रजनीकांत की पत्नी लता को ब्याज समेत 6.20 करोड़ रुपए ऐड ब्यूरो कंपनी को चुकाने के आदेश दिए हैं। इसके लिए 12 हफ्ते का वक्त दिया गया है। बता दें, लता पर तमिल फिल्म कोच्चाडियन के राइट्स बेचने में धोखाधड़ी करने का आरोप है। उनके खिलाफ केस दर्ज कराया गया था।

कब से चला आ रहा विवाद?
न्यूज एजेंसी के मुताबिक, 2014 में फिल्म कोच्चाडियन रिलीज होने के साथ विवाद शुरू हुआ।
ऐड ब्यूरो कंपनी ने कोर्ट में याचिका दायर कर लता रजनीकांत पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया। याचिका में कहा कि लता ने फिल्म के राइट्स का झांसा देकर फिल्म के पोस्ट प्रोडक्शन के लिए 10 करोड़ का लोन लिया। बाद में मीडिया वन कंपनी ने फिल्म के राइट्स इरोस इंटरनेशल को दे दिए गए। 8 जुलाई 2016 को सुप्रीम कोर्ट ने मामले में लता को नोटिस जारी कर अपना पक्ष रखने को कहा था। 20 फरवरी को कोर्ट ने लता को 6.20 करोड़ रुपए ब्याज समेत एेड ब्यूरो को चुकाने के आदेश दिए।

फर्जी दस्तावेज के आरोप में एफआईआर लता पर फर्जी दस्तावेज पेश कर लोन लेने का भी आरोप है। केस में बेंगलुरु पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी। पुलिस के मुताबिक, “हमने लता रजनीकांत पर कोर्ट में फर्जी दस्तावेज पेश करने के आरोप में केस दर्ज किया था। लता के खिलाफ शिकायत है कि उन्होंने वेलफेयर एसोसिएशन ऑफ इंडिया और प्रेस क्लब के जाली लेटर हेड का इस्तेमाल किया।” बता दें, अदालत ने पुलिस से इस एसोसिएशन के बारे में पूरी जांच-पड़ताल कर एक रिपोर्ट देने को कहा था।

रजनीकांत ने 31 दिसंबर को पॉलिटिक्स में आने का एलान किया। वे तमिलनाडु के अगला विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं।

रजनीकांत की बेटी सौंदर्या की पहली फिल्म है कोच्चाडियन रजनीकांत की बेटी सौंदर्या की बतौर निर्देशक पहली फिल्म कोच्चाडियन है। फिल्म एनिमेटेड, मोशन कैप्चर्ड टेक्नोलॉजी बेस्ड है।
रजनीकांत ने इसमें दो लीड कैरेक्टर्स के लिए आवाज दी। सौंदर्या का प्रोडक्शन हाउस की मालिक हैं। उसकी चेयरपर्सन उनकी मां लता हैं। लता फिल्म प्राेड्यूर के साथ प्लेबैक सिंगर भी हैं।

new jindal advt tree advt
Back to top button