राफेल डील मामले में दायर पुनर्विचार पर सुप्रीम कोर्ट आज करेगा सुनवाई

इस मामले पर कथित तौर पर गड़बड़ी पर के लिए पुनर्विचार याचिका डाली गई

नई दिल्लीः आज 14 मार्च को राफेल के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। इस मामले पर कथित तौर पर गड़बड़ी पर के लिए पुनर्विचार याचिका डाली गई है। जिस पर अब चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली पीठ सुनवाई करेगी।

सरकार को क्लीन चिट

बता दें कि पिछले साल 13 दिसंबर को इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए सरकार को क्लीन चिट दे दी थी, जिसमें कहा गया था कि ये सौदा बिल्कुल सही था और देश की जरुरत के हिसाब से भी था। लिहाजा कोर्ट ने इसे बिलकुल साथ सुथरा करार देते हुए मामले को खत्म कर दिया। हालांकि विपक्ष ने कोर्ट के फैसले पर भी सवाल उठाए थे।

इसके बाद विपक्ष का कहना है कि सरकार ने इस मसले से जुड़े सही कागजात पेश नहीं किए थे। इसलिए कोर्ट से इस फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए कहा। कोर्ट का फैसला आने के बाद केंद्र सरकार ने संसोधन याचिका दाखिल की थी। इसके बाद 26 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि राफेल मामले को लेकर दिए अपने फैसले पर वे खुली अदालत में पेश करेंगे।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की पीठ ने राफेल सौदे पर पुनर्विचार याचिकाओं की सुनवाई खुली अदालत में करने के लिए पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और अरूण शौरी तथा अधिवक्ता प्रशांत भूषण के अनुरोध पर चैंबर में विचार किया। पीठ ने कहा कि खुले न्यायालय में सुनवाई का अनुरोध स्वीकार किया जाता है।

शीर्ष अदालत ने 14 दिसंबर, 2018 को फ्रांस से 36 राफेल लड़ाकू विमान खरीदने के लिए भारत द्वारा किए गए समझौते को चुनौती देने वाली याचिकायें खारिज करते हुये कहा था कि इस संबंध में पूर्व करार को रद्द करने और विमान खरीद का निर्णय लेने की प्रक्रिया पर संदेह करने की वास्तव में कोई आवश्यकता नहीं है।

Back to top button