छत्तीसगढ़

बूथ लेबल पर सर्वे, वोटर लिस्ट पर आॅनलाइन आपत्ति पर कांग्रेस-बीजेपी में जुबानी जंग

रोशन बोले-कांग्रेस कर रही लोगों को मतदान से रोककर संवैधानिक अधिकार का हनन करने की साजिश

बिलासपुर: बूथ लेबल पर कांग्रेस के सर्वे के बाद मतदाताओं के नाम काटे जाने से विवाद शुरू हो गया है। बता दें कि कांग्रेस नेताओं द्वारा विगत दिनों पूर्व ही वार्ड में बूथ के अनुसार अलग-अलग सर्वे कराया गया था, इसमें युवा कांग्रेसियों ने वार्डों में जाकर वोटिंग लिस्ट के हिसाब से वार्ड के सभी लोगों का सत्यापन किया था। सर्वे के दौरान कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कई वोटरों के नाम सूची से हटवाने आवेदन दिए गए हैं। मतदाता सूची से नाम हटाए जाने के विवाद ने अब तूल पकड़ लिया। भाजपा युवा मोर्चा के नेता रोशन सिंह ने कहा कि कांग्रेस वोट बैंक के चक्कर में लोगों को मतदान से रोककर उनके संवैधानिक अधिकार का हनन करने की साजिश कर रही है।

उन्होंने आगे कहा कि निर्वाचन नियमावली में बूथ के बाहर के आदमी से सर्वे करा रही है जिन्हें वार्ड की जानकारी तक नहीं है। मतदाता पुननिरीक्षण के अधिकार के निर्वाचन विभाग द्वारा बीएलओ नियुक्त किए गए हैं। जिन पर इसकी जिम्मेदारी है। उन्होंने सवाल उठाया कि कांग्रेस नेता अटल श्रीवास्तव कौन से कानून के तहत लोगों का नाम कटवा रहे हैं। उन्होंने इस काम को गैरकानूनी बताते हुए कहा कि एसडीएम, कलेक्टर से इसके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी। रोशन सिंह ने कहा कि कोई भी आम आदमी के मत देने के अधिकार से खिलवाड़ नहीं कर सकता, आगे रोशन ने कहा कि आने वाले चुनाव के समय मतदाता ऐसे नेताओं को सबक सिखाएंगी।

शहर से 14000 नाम काटने पर अटल की आपत्ति वोट बैंक की राजनीति

वहीं शहरी विधानसभा के चौदह हजार नाम काटने के खिलाफ कांग्रेस नेता अटल श्रीवास्तव की आॅन लाइन आपत्ति को वोट बैंक की राजनीति बताते हुए भाजयुमो के कोषाध्यक्ष रोशन सिंह ने कहा कि ये आपराधिक षड्यंत्र का मामला है। अगर निर्वाचन नियमावली में बूथ के बाहर के आदमी के लिए पुनरीक्षण नियम में कोई प्रक्रिया ही नहीं है तो अटल श्रीवास्तव कौन से कानून के अंतर्गत लोगों के नाम पर आपत्ति कर रहे हैं। एसडीएम ,कलेक्टर को ऐसे लोगों पर कड़ी कार्यवाही करना चाहिए ताकि कोई भी वोटर लिस्ट को अपनी जागीर समझकर नियमों से खिलवाड़ न कर सके। चुनाव के समय मतदाता ऐसे कांग्रेसी नेताओं को नहीं छोड़ेंगे।

ये है मामला

प्रशासन ने मिसिंग बताकर बिलासपुर विधानसभा से चौदह हजार नाम काट दिए हैं, इस पर कांग्रेस के महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने आॅन लाइन आप्पति की है, जिस पर एसडीएम ने श्रीवास्तव को नोटिस देकर मतदाता सूची के उस भाग का मतदाता नहीं पाया जहां से नाम कटे हैं, प्रारूप नियम सात का हवाला देते हुए एसडीएम ने कहा कि सात दिन में जवाब नहीं मिलने पर अटल की आपत्ति निरस्त कर दी जाएगी।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *