मनोरंजन

सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में उनके कुक नीरज ने किया चौकाने वाला खुलासा

घर में अपने आप ड्रम बजना, लिफ्ट का ऊपर नीचे आना और कमरे की लाइट अचानक बंद हो जाना जैसी तमाम घटनाएं होती थीं

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत निधन मामले में उनके कुक नीरज ने चौकाने वाला खुलासा किया है। नीरज का कहना है कि सुशांत के पुराने घर में अपने आप ड्रम बजना, लिफ्ट का ऊपर नीचे आना और कमरे की लाइट अचानक बंद हो जाना जैसी तमाम घटनाएं होती थीं।

नीरज सिंह ने एक निजी चैनल को दिए बयान में कहा, ‘जब सुशांत सर पाली बाजार में कैप्री हाइट्स बिल्डिंग में रहते थे, उस वक्त मैंने उनके साथ काम करना शुरू किया था। वहां मेरा काम सफाई करना, कुत्तों को घूमाना, चाय और खाने के साथ-साथ सुशांत सर को अन्य चीजें परोसने का था। इसी फ्लैट में हमें सुशांत सर के साथ संपर्क में रहने के लिए वॉकी-टॉकी सेट्स दिए गए थे।’

नीरज ने आगे बताया, ‘एक रात जब मैं सो रहा था, तभी अचानक वॉकी पर आवाज सुनाई दी कि, ‘नीरज लाइट्स बंद कर दो’। मैं उठकर सुशांत सर के बेडरूम की तरफ गया और वहां देखा कि वो सो रहे हैं और कमरे की लाइट्स भी बंद हैं। मैं वहां से वापस लौट आया। कुछ देर बाद मुझे फिर ऐसी ही आवाज सुनाई दी। इस बार मैं फिर से वहां गया तो देखा सर सो रहे हैं लाइट्स बंद हैं।’

नीरज ने बताया, ‘मैं बात से बहुत डर गया और उस रात सो नहीं पाया। कैप्री हाइट्स में हमें लिफ्ट के ऊपर-नीचे जाने की आवाज सुनाई देती थीं। यहां तक कि कभी-कभी हमें ड्रम बीट्स की आवाजें भी आती थीं। इस वजह सुशांत सर कुछ दिनों के लिए कैप्री हाइट्स से वॉटर स्टोन रिसॉर्ट में शिफ्ट हो गए थे।’

2019 में बदला घर

सुशांत ने बांद्रा स्थित मोंट ब्लैंक अपार्टमेंट की 6 वीं और 7 वीं मंजिल के चार फ्लैट 9 नवंबर 2019 से 2022 तक 3 साल के लीज पर लिए थे। हर महीने का किराया 4 लाख 50 हजार था जो हर साल 10 प्रतिशत बढ़ने वाला था। ये डुप्लैक्स फ्लैट था जिसमें ऊपर रिया चक्रवर्ती और सुशांत रहते थे और नीचे उनका स्टाफ रहा करता था।

गौरतलब है कि सीबीआई की एक टीम रविवार को वॉटर स्टोन रिसॉर्ट पहुंची जहां सुशांत सिंह करीब दो महीने तक ठहरे थे। लेकिन टीम को रिसॉर्ट में घुसने की इजाजत नहीं मिली। डरावनी घटनाओं के चलते सुशांत गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के साथ 2019 में कैप्री हाइट्स छोड़कर वॉटर स्टोन रिसॉर्ट में रहने चले गए थे। इसी रिसॉर्ट में सुशांत की स्प्रिचुअल हीलिंग हुई थी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button