राष्ट्रीय

कुरैशी पर भड़की सुषमा, कहा- ‘गुगली’ टिप्पणियों ने किया आपको बेनकाब

हम आपकी 'गुगली' में फंसे नहीं हैं. हमारे दो सिख मंत्री पवित्र गुरुद्वारा में मत्था टेकने के लिए करतारपुर साहिब गए थे.’

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी पर उनकी ‘गुगली’ वाली टिप्पणी को लेकर शनिवार को तीखी आलोचना की. उन्होंने कहा कि इससे वह (कुरैशी) बेनकाब हो गए और इस तरह पाकिस्तान के मन में सिख भावनाओं के प्रति कोई सम्मान नहीं है.

सुषमा ने सिलसिलेवार ट्वीट किए, जिनमें उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान के श्रीमान विदेश मंत्री-नाटकीय अंदाज में की गई आपकी ‘गुगली’ टिप्पणियों ने आपको बेनकाब कर दिया है.

हम आपकी ‘गुगली’ में फंसे नहीं हैं. हमारे दो सिख मंत्री पवित्र गुरुद्वारा में मत्था टेकने के लिए करतारपुर साहिब गए थे.’हम आपकी ‘गुगली’ में फंसे नहीं हैं. हमारे दो सिख मंत्री पवित्र गुरुद्वारा में मत्था टेकने के लिए करतारपुर साहिब गए थे.

’इससे पता चलता है कि आपके मन में सिख भावनाओं के प्रति कोई सम्मान नहीं है. आप केवल ‘गुगली’ फेंकते हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं आपको बता देना चाहती हूं कि हम आपकी ‘गुगली’ में फंसे नहीं हैं. हमारे दो सिख मंत्री पवित्र गुरुद्वारा में मत्था टेकने के लिए करतारपुर साहिब गए थे.’

गौरतलब है कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने गुरुवार को दावा किया था कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने करतारपुर गलियारे के लिए आधारशिला कार्यक्रम में भारत सरकार की मौजूदगी तय करने के लिए ‘गुगली’ फेंकी.

कुरैशी के बयान से एक दिन पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय वार्ता की बहाली की संभावना से साफ तौर पर इनकार करते हुए कहा था कि जब तक पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंकवादी गतिविधियों को रोक नहीं देता, तब तक बातचीत संभव नहीं है.

Summary
Review Date
Reviewed Item
कुरैशी के टिप्पणी पर सुषमा का पलटवार- 'गुगली' टिप्पणियों ने किया आपको बेनकाब
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags