अगवा हुए 39 भारतीय नागरिकों की मौत पर लोकसभा में बयान नहीं दे सुषमा स्‍वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज अगवा हुए 39 भारतीय नागरिकों की मौत पर लोकसभा में बयान नहीं दे पाईं। सदन में भारी शोरगुल के बीच स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने शोर-शराबा करने वाले सांसदों से दो टूक कहा कि वे इस संवेदनशील मामले में राजनीति न करें।

नई दिल्‍ली : विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज अगवा हुए 39 भारतीय नागरिकों की मौत पर लोकसभा में बयान नहीं दे पाईं। सदन में भारी शोरगुल के बीच स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने शोर-शराबा करने वाले सांसदों से दो टूक कहा कि वे इस संवेदनशील मामले में राजनीति न करें।

लोकसभा में विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज को जैसे ही स्‍पीकर ने इराक के मोसुल शहर में 39 भारतीय नागरिकों की मौत के बारे में बयान देने की अनुमति दी, विपक्षी सदस्‍यों ने हंगामा शुरू कर दिया और नारेबाजी करने लगे। भारी शोर-श्‍राबे के बीच सुषमा स्‍वराज ने कहा, ‘मैं सदन को कुछ दुखद खबर देना चाहती हूं और यह इस हंगामे के बीच नहीं हो सकता।’

विपक्षी सदस्‍यों के हंगामे के बीच लोकसभा स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा, ‘यह ठीक नहीं है, इतने असंवेदनशील न बनें और इस तरह की राजनीति न करें।’ भारी शोरगुल के बीच सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्‍थगित कर दी गई।

विदेश मंत्री ने इससे पहले राज्‍यसभा में इराक से जून 2014 में अगवा हुए सभी 39 भारतीय नागरिकों के मारे जाने की पुष्टि की। उन्‍होंने बताया कि 38 लोगों का डीएनए मैच हो गया है, जबकि 39वें का डीएनए 70 प्रतिशत तक मैच हो गया है।

विदेश मंत्री ने बताया कि शवों को इराक के बंदूश इलाके में एक पहाड़ी को खोदकर बाहर निकाला गया और डीएनए सैंपल की जांच से उनकी पहचान की गई। उन्‍होंने इन भारतीय नागरिकों की हत्‍या के लिए आईएस को जिम्‍मेदार ठहराया।

advt
Back to top button