न्यूयॉर्क में बोलीं सुषमा स्वराज- पेरिस समझौते की शर्तें नहीं मानेगा भारत

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने न्यूयार्क में यूनाइटेड नेशन सेक्रेटरी जनरल एंटोनियो गटर्स की मीटिंग में जलवायु परिवर्तन पर भारत के रुख को साफ किया। उन्होंने कहा कि भारत पेरिस समझौते से बाहर काम जारी रखेगा। उन्होंने कहा कि भारत के पीएम पर्यावरण की सुरक्षा पर जोर दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भारत आने वाली पीढ़ी के लिए पेरिस समझौते से बाहर काम करेगा। स्वराज ने कहा कि भारत UNSG और संबंधित UN एजेंसियों के साथ काम करने के लिए तैयार था। उन्होंने कहा कि भारत खास तौर पर इंटरनेशनल सोलर अलाइंस पर काम करने के लिए तैयार था।

पेरिस समझौता या पेरिस जलवायु समझौता ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन शमन, अनुकूलन और वित्त पर किया गया। यह 2020 से शुरू किया जाएगा।

इस पर पेरिस में हुए 21वें सम्मेलन में 196 पार्टियों ने 12 दिसम्बर 2015 आम सहमति से अपनाया था। 195 सदस्यों ने इस पर हस्ताक्षर किए और 162 लोगों ने इसकी पुष्टि भी की है।

Back to top button