UN जनरल असेंबली को आज संबोधित करेंगी सुषमा, पाक के अलावा उठा सकती हैं ये मुद्दे

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शनिवार (23 सितंबर) को यूनाइटेड नेशन (यूएन) की जनरल मीटिंग में भाषण देंगी। माना जा रहा है कि सुषमा अपने भाषण में भारत द्वारा आगे के वक्त के लिए तय की गईं वैश्विक नीति, पॉलिसी पर बात करेंगी। इसके अलावा वह अपने भाषण में पाकिस्तान को भी घेरने की कोशिश करेंगी।

इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खकान अब्बासी ने भारत पर गंभीर आरोप लगाए थे।अब्बासी ने कहा था कि भारत कश्मीर में हो रहे सारे अपराध करता है। शाहिद खकान अब्बासी ने कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का घोषणापत्र लागू करने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को भारत लागू करने से इनकार कर रहा है, जिसमें जनमत-संग्रह के जरिए कश्मीर समस्या के हल की बात कही गई है। अब्बासी के भाषण का जवाब देते हुए भारत ने पाकिस्तान को ‘टेररिस्तान’ बताया था।

सुषमा के भाषण में यह मुद्दे हो सकते हैं शामिल: सुषमा जनरल मीटिंग में मुख्य पांच बातों को रख सकती हैं। पहली यूएन की सिक्योरिटी काउंसिल में विस्तार, बॉर्डर पार से फैलाने वाला आतंकवाद, क्लाइमेट चेंज, विकासशील देशों के बीच ज्यादा संबंध और शांति बनाए रखने की गुजारिश।

यूएन में विस्तार की बात अगर मान ली जाती है तो इससे भारत और उसके जैसे बाकी विकासशील देशों के लिए परमानेंट सीट हासिल करना आसान हो जाएगा। भारत का दावा है कि कुल पांच स्थाई सदस्यों में से चार उसके पक्ष में हैं। सिर्फ चीन उसका विरोध करता है।

Back to top button