एक लड़के ने की सुष्मिता सेन, के साथ ऐसी हरकत

सुष्मिता ने कहा, मैंने उसकी गर्दन पकड़ी और उसे अपने साथ चलने दिया. इसके साथ मैंने उसे कहा कि अगर मैं चिल्लाई और शोर मचाया तो उसकी जान चली जाएगी.

बॉलीवुड की मशहूर हस्तियां अक्सर ही पब्लिक प्लेसेज पर बॉडीगार्ड्स से घिरे रहते हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि वह बॉडीगार्ड्स के साथ होते हुए भी सेफ होते हैं.

दरअसल, ऐसा कई बार हुआ है जब बॉलीवुड एक्ट्रेस को बुरे अनुभवों का सामना करना पड़ा. मिस युनिवर्स रह चुकीं एक्ट्रेस सुष्मिता सेन ने हाल ही में अपने साथ हुई इस तरह की एक घटना का जिक्र किया. उन्होंने एक ईवेंट में बताया कि वह उस वक्त हैरान रह गई जब उन्होंने एक 15 साल के लड़के को खुद के साथ बदतमीजी करते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया.

सुष्मिता सेन ने इस घटना को याद करते हुए कहा, कई बार लोग सोचते हैं कि हमेशा हम बॉडीगार्ड से घिरे रहते हैं और इसलिए हमें बुरे अनुभवों का सामना नहीं करता पड़ता लेकिन मैं आपको बताती हूं. हमारे आस पास 10 बॉडीगार्ड होते हैं लेकिन इसके बाद भी हमें मर्दों से भरी हुई 100 लोगों से भी ज्यादा की भीड़ के बीच में बुरे अनुभवों का सामना करता पड़ता हैं. सुष्मिता ने अपने साथ 6 महीने पहले हुई एक घटना का जिक्र किया.

उन्होंने कहा, 6 महीने पहले एक अवॉर्ड शो में एक बच्चे ने मेरे साथ बदतमीजी की. उसे लगा की भीड़ ज्यादा है और इसलिए मुझे पता नहीं चलेगा लेकिन वह गलत था. मैंने अपने पीछे से उसका हाथ पकड़ लिया लेकिन मैं यह देखकर हैरान रह गई कि वह अभी सिर्फ 15 साल का है.

सुष्मिता ने आगे कहा, मैंने उसकी गर्दन पकड़ी और उसे अपने साथ चलने दिया. इसके साथ मैंने उसे कहा कि अगर मैं चिल्लाई और शोर मचाया तो उसकी जान चली जाएगी. शुरुआत में जब मैंने उससे पूछा तो उसने अपनी गलती नहीं मानी लेकिन जब मैंने जोर दिया तो उसने अपनी गलती मान ली और मुझसे माफी मांगी. मैंने उसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया क्योंकि मैं समझती हूं कि उस बच्चे को नहीं पता था कि इस तरह की हरकत एक अपराध है न कि किसी तरह का मनोरंजन.

गौरतलब है कि 21 मई 1994 को ही उन्हें मिस युनिवर्स के ताज से नवाजा गया था और कल उन्होंने 24 साल पूरे कर लिए और इस मौके पर उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर की.

इस पोस्ट को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, मैं बस 18 साल की थी जब मैंने मिस यूनिवर्स का ताज जीता था और अब मैं 42 साल की हूं. आज भी मिस हूं वो भी खुद के अंदर एक दुनिया के साथ. सालों के अलावा मेरी जिंदगी में कुछ नहीं बदला. आप सबके द्वारा भेजे गए गिफ्ट्स, कार्ड्स और लेटर्स के लिए धन्यवाद.<>

new jindal advt tree advt
Back to top button