राष्ट्रीय

स्वामी चिन्मयानंद रेप केस: अदालत में अपने पहले के सभी आरोपों से पलटी छात्रा

अब इस केस की अगली सुनवाई 15 अक्टूबर को होगी

नई दिल्ली: इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर लखनऊ के विशेष एमपी-एमएलए कोर्ट में स्वामी चिन्मयानंद रेप मामले की सुनवाई हो रही है. अब इस केस की अगली सुनवाई 15 अक्टूबर को होगी. वहीँ इस मामले में 23 वर्षीय छात्रा लखनऊ की विशेष एमपी-एमएलए अदालत में अपने पहले के सभी आरोपों से पलट गई.

जानकारी के मुताबिक रेप के आरोप में फंसे स्वामी चिन्मयानंद केस की सुनवाई एमपी एमएलए कोर्ट में स्पेशल जज पवन कुमार राय के सामने हुई. इस दौरान एलएलएम की छात्रा ने इस बात से स्पष्ट रूप से इनकार किया कि उसने पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ कोई आरोप लगाया था.

लॉ की छात्रा के इस बयान से हैरान अभियोजन पक्ष ने छात्रा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है और सीआरपीसी की धारा 340 के तहत झूठा बयान देने के लिए कार्रवाई की मांग की है. इस पर जज पीके राय ने निर्देश दिया कि अभियोजन पक्ष के कार्रवाई के आवेदन को स्वीकार किया जाए और इस आवेदन की कॉपी पीड़िता और आरोपी को भी सौंपी जाए.

मामले की अगली सुनवाई 15 अक्टूबर को होगी. सरकारी वकील का आरोप, आरोपी के साथ कर लिया समझौता सरकारी वकील अभय त्रिपाठी ने अपनी अर्जी में कहा है कि पांच सितंबर 2019 को पीड़िता ने खुद इस मामले की एफआईआर नई दिल्ली के लोधी कॉलोनी थाने में दर्ज कराई थी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button