अब इस शहर में मशीनें करेंगी स्वीपर का काम

-ठेकेदार मुख्य मार्गों में मशीनों से सफाई करेगा

बिलासपुर।

अब बिलासपुर शहर में स्वीपर नहीं मशीन से सफाई होगी। नगर निगम ने महानगरों की तर्ज पर अब शहर की पूरी सफाई व्यवस्था ठेके पर जाने वाली है। निगम का अमला आधुनिक जीआइएस सिस्टम से काम की निगरानी करेगा। दिल्ली की लॉयन सर्विसेस लिमिटेड को यह काम मिलने वाला है। इसमें प्रति माह एक करोड़ 55 लाख 75 हजार रुपये खर्च होंगे। ठेकेदार मुख्य मार्गों में मशीनों से सफाई करेगा और गलियों में उनके कर्मचारी तैनात होंगे।

नगर निगम ने शहर में मैकेनाइज्ड एंड मेनुअल स्वीपिंग का ठेका किया था। इसमें दिल्ली की लॉयन सर्विसेस का रेट सबसे कम आया, लेकिन शासन से अनुमति नहीं मिलने के कारण ठेका प्रक्रिया रुकी हुई थी।

अब नगरीय प्रशासन विभाग के अवर सचिव एचआर दुबे ने इस ठेके को सहमति देने संबंधी आदेश संचालक नगरीय प्रशासन को जारी कर दिया है। इसकी सूचना नगर निगम को भी मिली है। इस तरह अब मशीनों से सफाई व्यवस्था की एक बड़ी रुकावट दूर हो गई है। अब शासन स्तर से सीधे इस काम का ठेका दिया जा सकता है।

इसके बाद पूरे शहर की सफाई एक कंपनी के हाथ में चला जाएगा। बड़ी कंपनी के इस काम में आने से संभावना जताई जा रही है कि शहर पूरे प्रदेश में सबसे साफ-सुथरा हो जाएगा। शासन से सहमति मिलने के बाद जल्द ही ठेकेदार को लाने के प्रयास भी शुरू हो गए हैं।

मॉनिटरिंग ऐसे होगी

मैकेनाईज्ड एंड मेनुअल स्वीपिंग में खास बात यह होगी कि इसकी मॉनिटरिंग भी आधुनिक तरीके से होगी। निगम जीआइएस सिस्टम से ठेकेदार की गतिविधियों पर नजर रखेगा। मतलब ठेकेदार की कितनी गाड़ियां कहां-कहां चल रही हैं, यह सब सीधे आॅनलाइन दिखेगी। अगर किसी क्षेत्र में उनकी गाड़ियां नहीं गईं तो कंप्यूटर ही ठेकेदार की पोल खोल देगा। इसके अलावा निगम के सफाई इंस्पेक्टर और स्वास्थ्य अमला पूर्ववत काम की मॉनिटरिंग करते रहेंगे।

नई व्यवस्था से पूरे शहर की सफाई करने में मदद मिलेगी

– शहर ने सफाई के मामले में पूरे देश में अपने को स्थापित किया है। अब आने वाले समय के लिए हम ऐसी प्लानिंग कर रहे हैं कि पूरे देश में हमारा स्थान और आगे जाएगा। मैकेनाइज्ड स्वीपिंग उसी का एक हिस्सा है। इस नई व्यवस्था से पूरे शहर की गहन सफाई करने में मदद मिलेगी।

इस तरह की सफाई देश के बड़े शहरों में पहले से है, जहां सफलता पूर्वक काम हो रहा है। सफाई के मामले में अब हमारा शहर भी उन्हीं बड़े शहरों की कतार में खड़ा हो जाएगा।
– किशोर राय, महापौर, नगर निगम

new jindal advt tree advt
Back to top button