हरियाणा में पारा गिरते ही स्वाइन फ्लू ने ली अब तक 10 लोगों की जान

सैंपल की रिपोर्ट में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई

नई दिल्ली: 22 दिसंबर को बवानीखेड़ा क्षेत्र के गांव की 32 साल की महिला की स्वाइन फ्लू से मौत हो गई थी। महिला को 20 दिसंबर को हिसार के निजी नर्सिंग होम में दाखिल करवाया गया था। 21 दिसंबर को सैंपल भेजा गया।

22 दिसंबर को गंभीर हालत में परिजन उसे हिसार से पीजीआई रोहतक ले जा रहे थे, रास्ते में ही महिला ने दम तोड़ दिया। 26 दिसंबर को सैंपल की रिपोर्ट में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है।

वहीं हरियाणा में पारा गिरते ही स्वाइन फ्लू ने अब तक 10 लोगों की जान ले चुकी है। स्वाइन फ्लू से भिवानी में महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई। दो अन्य पीड़ितों की हालत चिंताजनक है।

दोनों हिसार के निजी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती हैं। स्वास्थ्य विभाग ने स्वाइन फ्लू की पुष्टि करते हुए गांव का दौरा किया। मृतकों और पीड़ितों के संपर्क में रहने वालों की जांच करवाई जा रही है।

कैरू क्षेत्र के एक गांव निवासी 29 साल के युवक संजय को तेज बुखार होने पर 24 दिसंबर को हिसार के निजी अस्पताल अस्पताल में भर्ती करवाया था। 26 दिसंबर को सैंपल की जांच रिपोर्ट में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई। वीरवार सुबह उपचार के दौरान युवक की मौत हो गई। युवक शादीशुदा था और उसका एक साल का बेटा है।

advt
Back to top button