मंद बुद्धि पुत्र और वृद्ध पति होने का फायदा उठा हड़प लिये सारी जायदाद..! लाखों की जायदाद की मालकिन वृद्धा भीख मांगने को मजबूर…आखिर कब मिलेगा न्याय ? पहले पटवारी ने लूटा और अब?…

सारंगढ़ के ग्राम अमझर निवासी वृद्धा भगवतीन पटेल पति रवि पटेल न्याय के लिए पिछले 3 सालों से थाना और कचहरी का चक्कर लगा रही है

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़/ दीपक पटेल सवांददाता/ दिनांक 03.10.2021

सारंगढ़:  सारंगढ़ के ग्राम अमझर निवासी वृद्धा भगवतीन पटेल पति रवि पटेल न्याय के लिए पिछले 3 सालों से थाना और कचहरी का चक्कर लगा रही है भीख मांग मांग कर अपना जीवन यापन एवं वकील का फीस दे रही है। वृद्धा का पुत्र मंदबुद्धि एवं पति अत्यंत वृद्ध होने की वजह से परिजन इसका फायदा उठाकर वृद्धा का मकान एवं कृषि भूमि जबरन हड़प लिए हैं वृद्धा भगवती पटेल बकायदा शपथ पत्र पर इस बात की शिकायत पुलिस थाना एवं सारंगढ़ एसडीएम को की है जिसकी आज 3 साल हो जाने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई है।

जमीन किताब बनाने पटवारी ले लिया 3000रू और नही दिया किताब-!

वृद्धा ने बताया की उसकी जमीन की किताब भू अधिकार एवं ऋण पुस्तिका कहीं गुम हो गया है जोकि मिल ही नहीं रहा है उसके द्वितीय प्रति निकालने के लिए ग्राम अमझर पटवारी हल्का नंबर 44 राजस्व मंडल सारंगढ़ के त्कालीन पटवारी लकेश्वर चौहान द्वारा उक्त किताब बनाने के लिए ₹3000 ले लिए और उक्त किताब नहीं दिया सारंगढ़ थाना प्रभारी को उक्त बात की शिकायत की है जिसमें उसने उल्लेख किया है की खसरा नंबर 32 /२/ख रकबा 0 . 400 हेक्टेयर खसरा 25 /1/ख रकबा 0 .307 हेक्टेयर कृषि भूमि पटवारी अभिलेख एवं राजस्व रिकार्ड घर में जल गया

उक्त खाते की भूमिका ऋण पुस्तिका बना कर देने के नाम पर तत्कालीन पटवारी जोकि रानी सागर में निवासरत था ने ₹3000 ले लिया और आज तक उक्त किताब बनाकर नहीं दिया प्रार्थीया के मांगने पर पटवारी मारने पीटने की नियत पर आ जाता है इसकी शिकायत 10 जनवरी 2019 को सारंगढ़ थाने में की गई लेकिन आज पर्यंत कोई कार्यवाही नहीं की गई जिससे महिला काफी हताश एवं निराश है।

कलेक्टर के जांच के आदेश पश्चात भी कोई कार्यवाही नही क्यों?-

प्रार्थी या भगवतीन बाई निराश होकर दिसंबर 2019 में इस बात की शिकायत कलेक्टर रायगढ़ से की थी जिसपर कलेक्टर द्वारा समुचित जांच कर कार्यवाही से अवगत कराने एसडीएम सारंगढ़ एसडीओपी सारंगढ़ को 2020 में निर्देशित की गई है लेकिन वृद्धा के मुताबिक आज तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं हुई कलेक्टर को अपनी शिकायत में लिखी है कि उसके स्वामित्व की उक्त सारी जमीनें एवं मकान उनके ही परिजनों ने जबरन बलपूर्वक उक्त जमीन हड़प ली गई है।

इस तरह जहां दुनिया में अंतरराष्ट्रीय वृद्ध दिवस मनाया जा रहा है वही एक वृद्धा अपने ही परिजनों के द्वारा अपनी संपत्ति लूटने की शिकायत और पाने की लालसा में दर्द भटक रही है भीख मांग कर अपना गुजारा एवं वकील का फीस भरती है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button