अफगानिस्तान में पुलिस ट्रेनिंग कैंप पर हमले में 15 की मौत और 40 घायल

अफगानिस्तान के दक्षिण पूर्वी हिस्से में फिदाई हमलावरों और बंदूकधारियों ने एक पुलिस प्रशिक्षण केंद्र पर हमला कर दिया। तालिबान ने ट्वीट कर इस हमले की जिम्मेदारी ली है, जो पाकिस्तान की सरहद से लगे पकतिया प्रांत की राजधानी गरदीज में स्थित पुलिस प्रशिक्षण केंद्र पर हुआ है। गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि एक फिदाई बम हमलावर ने प्रशिक्षण केंद्र के नजदीक विस्फोट से भरी अपनी कार को उड़ाया दिया। इससे कई हमलावरों के लिए हमला करने का रास्ता साफ हो गया। हमले में अब तक कुल 15 लोगों की मौत हुई है और 40 लोग घायल बताए जा रहे हैं।

बयान के मुताबिक, केंद्र के अंदर बंदूकों से लैस एवं आत्मघाती जैकेट पहने हमलावरों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ चल रही है।

यह केंद्र पकतिया पुलिस मुख्यालय के करीब स्थित है। एक स्थानीय अधिकारी ने बताया कि परिसर के पास दो कारों में विस्फोट हुआ। इस परिसर में राष्ट्रीय पुलिस, सीमा पुलिस और अफगान नेशनल आर्मी का प्रांतीय मुख्यालय भी हैं। पकतिया प्रांतीय परिषद के सदस्य अल्लाह मीर बहराम ने एएफपी को बताया कि बंदूकधारियों का एक समूह परिसर में घुस गया था। मुठभेड़ अभी चल रही है।

वहीं, अफगानिस्तान के अधिकारियों ने कहा कि तालिबान ने देश के दक्षिण, पश्चिम और पूर्वी हिस्सों में हमले कर कम से कम 10 पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी। दक्षिण गजनी प्रांत में विद्रोही फिदाई कार हमले के बाद एक सुरक्षा परिसर में घुस गए और कम से कम सात पुलिसर्किमयों का कत्ल कर दिया। प्रांतीय पुलिस प्रमुख मोहम्मद जमां ने बताया कि हमला मंगलवार को अंदर जिले में हुआ और कई घंटे की मुठभेड़ के बाद हमलावरों का सफाया किया गया।

1
Back to top button