तमिलनाडु विधानसभा उपचुनाव : बीजेपी उम्मीदवार से ज्यादा वोट ‘नोटा’ को मिला

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे.जयललिता के पिछले वर्ष निधन के बाद से खाली पड़ी उनकी सीट पर उपचुनाव के लिए 21 दिसंबर को मतदान हुआ था

तमिलनाडु विधानसभा उपचुनाव : बीजेपी उम्मीदवार से ज्यादा वोट ‘नोटा’ को मिला

तमिलनाडु की आरके नगर सीट पर हुए विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी उम्मीदवार से ज्यादा वोट ‘नोटा’ को मिला है. इस सीट के लिए हुए उपचुनाव में मुख्य मुकाबला टीटीवी दिनाकरण और एआईडीएमके के दिग्गज नेता ई मधुसूदनन के बीच था.

इस सीट पर नोटा को बीजेपी उम्मीदवार कारू नागराजन से अधिक वोट मिला. नागराजन को महज 1,417 वोट मिले. करीब 2,373 मतदाताओं ने ईवीएम पर ‘नॉन ऑफ द एवव’ (नोटा) का बटन दबाया.

नागरजन तमिल टीवी चैनलों पर नियमित रूप से नजर आते हैं. वह विभिन्न मुद्दों पर बीजेपी के विचार रखते हैं. इससे पहले 2016 के विधानसभा चुनाव में मयलापुर सीट पर भी उन्हें शिकस्त का सामना करना पड़ा था.

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे.जयललिता के पिछले वर्ष निधन के बाद से खाली पड़ी उनकी सीट पर उपचुनाव के लिए 21 दिसंबर को मतदान हुआ था. रविवार को मतों की गिनती हुई जिसमें निर्दलीय उम्मीदवार दिनाकरण ने भारी जीत हासिल की.

इससे पहले आरके नगर सीट पर उपचुनाव 12 अप्रैल 2017 को होना था लेकिन मतदाताओं के बीच पैसा बांटने के आरोपों के बाद आयोग ने इसे रद्द कर दिया था. इससे पहले तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी विजयभास्कर के परिसरों पर आयकर विभाग ने छापेमारी भी की थी. मंत्री के सहयोगियों के यहां छापेमारी में आरके नगर के मतदाताओं के बीच वितरित करने के लिए 89 करोड़ रुपए की राशि पता चला था.

advt
Back to top button