तांदुला का रिकॉर्ड टूटा, 4 साल बाद छलका सौ साल पुराना डेम

दो फीट ऊपर बह रहा पानी

बालोद: लगातार हो रही बारिश के बीच चार साल बाद बालोद जिला का तांदुला डेम छलक गया है। मंगलवार को तांदुला डेम के केचमेंट एरिया में अच्छी बारिश के चलते दुर्ग संभाग का सबसे बड़े डेम के छलकने का नजारा चार साल बाद दिखाई दिया है।

तांदुला जलाशय में पानी डेम के दीवार के लगभग 4 फीट ऊपर से छलक रहा है। प्रदेश का तीसरा सबसे बड़ा जलाशय है। तांदुला डेम के छलकने के साथ ही तांदुला और शिवनाथ नदी में लगातार पानी छोड़ा जा रहा है। जिसके चलते इन दोनों ही नदियों के किनारे बसे गांवों में पहले से मुनादी करवा दी गई है। वहीं राहत और बचाव के लिए जिला प्रशासन की टीमों को अलर्ट पर रखा गया है।

बता दें कि तांदुला की जल भराव क्षमता 38.50 फीट है। क्षमता के अनुरूप जल भरने के बाद तांदुला मंगलवार से छलकने लगा है। वहीं गोंदली जलाशय में भी सत्ताइस फीट पानी भर गया है। खरखरा, मटियामोती जलाशय में भी तेजी से जलभराव हो रहा है।

Back to top button