बॉलीवुडमनोरंजन

तनुश्री दत्ता को नाना पाटेकर और विवेक अग्निहोत्री से मिला कानूनी नोटिस

तनुश्री दत्ता

अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने कहा है कि गुरुवार को उन्हें अभिनेता नाना पाटेकर और फिल्मकार विवेक अग्निहोत्री से कानूनी नोटिस मिला है।

हाल में टेलीविजन पर एक साक्षात्कार में तनुश्री ने नाना पर आरोप लगाया था कि 10 साल पहले फिल्म हॉर्न ओके प्लीजके एक गाने की शूटिंग के दौरान उन्होंने उनके साथ दुर्व्यवहार किया था। इस आरोप को उन्होंने दोहराया।

विवाद पैदा होने के बाद उन्होंने फिल्मकार विवेक अग्निहोत्री पर भी 2005 में आई फिल्म चॉकलेट के निर्माण के दौरान उनके साथ अनुचित व्यवहार करने का आरोप लगाया।

अभिनेत्री ने बताया, मुझे दो कानूनी नोटिस मिले। एक नोटिस नाना पाटेकर से और दूसरा विवेक अग्निहोत्री से मिला है। अपनी पीआर टीम शिमर एंटरटेनमेंट द्वारा जारी बयान में दत्ता ने कहा, भारत में उत्पीड़न, अपमान और अन्याय के खिलाफ बोलने का आपको यही इनाम मिलता है।

नाना और विवेक अग्निहोत्री दोनों की टीम मेरे ऊपर कीचड़ उछालने का अभियान चला रही है और सोशल मीडिया तथा अन्य मंचों पर झूठी और गलत खबरें फैला रही है। पूर्व मिस इंडिया-यूनिवर्स रहीं अभिनेत्री ने दावा किया कि पाटेकर और अग्निहोत्री के समर्थक उनके खिलाफ ओछे आरोप लगा रहे हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी जान को खतरा है। उनके घर पर तैनात पुलिसकर्मी जब भोजन करने गए थे तो दो अज्ञात संदिग्धों ने बिना बुलाए उनके घर में घुसने की कोशिश की। हालांकि समय रहते उन्हें रोक लिया गया। उन्होंने दावा किया, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) पार्टी उनके खिलाफ हिंसक धमकियां दे रही है।

इस विवाद ने भारत में मी टू अभियान की शुरुआत की है। अभिनेत्री ने कहा कि उत्पीड़न के शिकार लोगों के प्रति बरसों से चले आ रहे उदासीन रवैये ने भारत से इस आंदोलन को महरूम रखा। तनुश्री अब अमेरिका में रहती हैं।

पिछले हफ्ते अपने खिलाफ आरोपों के सामने आने के बाद नाना पाटेकर ने इसे बहुत महत्त्व नहीं देते हुए कहा था कि वे इसमें क्या कर सकते हैं। 67 साल के अभिनेता ने कहा कि वे कानूनी कदम उठाने पर विचार कर सकते हैं। फिल्म उद्योग में तनुश्री दत्ता को कई लोगों से समर्थन मिला है।

आरोप झूठे और महत्त्वहीन : विवेक

फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने अभिनेत्री तनुश्री दत्ता के दुर्व्यवहार और उत्पीड़न के आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि ये दावे प्रचार हासिल करने और निजी दुश्मनी निकालने की मंशा से किए जा रहे हैं।

अग्निहोत्री के वकील निधीश मेहरोत्रा ने बताया कि टीम ने मानहानि के आरोप में दत्ता पर मुकदमा किया गया है। उन्होंने कहा तनुश्री की ओर से मेरे मुवक्किल विवेक अग्निहोत्री के खिलाफ लगाए गए दुर्व्यवहार और उत्पीड़न के आरोप पूरी तरह झूठे, महत्त्वहीन और अफसोसजनक हैं। ये आरोप जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण मंशा के साथ निजी दुश्मनी निकालने के इरादे से लगाए गए हैं।

साहस की प्रशंसा करनी चाहिए

जिस घटना के बारे में आज बात की जा रही है, वह बहुत कुछ कह रही है। दस साल पहले अपने करिअर की चिंता करते हुए तनुश्री चुप रही थीं। अब भी उन्होंने अपना बयान नहीं बदला है। उनके साहस की प्रशंसा करनी चाहिए, ना कि उनके इरादे पर सवाल उठाने चाहिए।

फरहान अख्तर

अपनी बात से पीछे नहीं हटीं

कोई महिला केवल प्रचार पाने के लिए इस प्रकार का आरोप नहीं लगा सकती है जिससे उसे ट्रोल किया जाए। मुझे लगता है तनुश्री की एकमात्र गलती है कि वह अपनी बात से पीछे नहीं हटीं। ऐसा करने के लिए साहस की जरूरत है।

-रिचा चड्ढा

हम सभी को राह दिखा रहीं

तनुश्री के बारे में कोई विचार बनाने या उन्हें शर्मिंदा करने से पहले इस बारे में पढ़ें कि किसी उत्पीड़न और धौंस-धमकी से मुक्त कामकाजी माहौल एक मौलिक अधिकार है। अपनी बात रख कर यह साहसी महिला हम सभी के लिए इस लक्ष्य का मार्ग प्रशस्त कर रही हैं।

-ट्विंकल खन्ना

मैं तनुश्री की आवाज के साथ

ऐसा आरोप लगाना दत्ता के लिए आसान नहीं था। मैं तनुश्री को को व्यक्तिगत तौर पर नहीं जानती हूं लेकिन मैं उनके साथ खड़ी हूं। तनुश्री की बहादुरी के समर्थन में सामने आई आवाजों में मैं भी अपनी आवाज मिला रहीं हूं।

-फ्रीडा पिंटो<>

Summary
Review Date
Reviewed Item
तनुश्री दत्ता को नाना पाटेकर और विवेक अग्निहोत्री से मिला कानूनी नोटिस
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags