ताेरवा पुलिस ने चुनावी अभियान में शामिल ड्राइवर को किया लहूलुहान

-रिपोर्टर अमन जाटवर बिलासपुर

बिलासपुर :

बिलासपुर तोरवा पुलिस ने चुनावी अभियान में शामिल हुए बस ड्राइवर को इतना पीटा की उसका ना केवल सिर फूटा…बल्कि हाथ पैर को भी लहू लोहान कर दिया था । नागपुर के ड्राइवर ने स्थानीय वाहन चालक ए सोसीएशन के सहायता से कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक कार्यालय का घेराव किया एसोसिएशन ने बिलासपुर पुलिस की कारवाही को शर्मिंदा करने वाला बताया है।

न्याय मांग…. किया प्रदर्शन

आज बिलासपुर वाहन चालक एसोसिशन ने बिलासपुर तोरवा पुलिस के खिलाफ एसपी और कलेक्टर कार्यालय में घेराव किया वाहन चालक एसोसिशन मुख्य उमेश सिंह के बताने के मुताबिक चुनावी अभियान में शामिल बस चालक को तरवा पुलिस ने रात्रि को जमकर पीटा।

ड्राइवर नागपुर का रहने वाला है बीती रात वह खाली बस लेकर सूरजपुर से रायपुर जा रहा था इस दौरान तोरवा थाना क्षेत्र में अधिक भीड़ होने के कारण ड्राइवर ने बस रोकी थी इतने में तोरवा पुलिस पहुंची और ड्राइवर मिथिलेश को बिना किसी पूछताछ किए ही मारना पीटना शुरू कर दिया सुबह तक थाने में बैठा कर रखा गया ।

जब जानकारी हुआ तो ड्राइवर चुनावी गाड़ी लेकर रायपुर जा रहा था तो उसे पहले बहला फुसला या इसके बाद खाना खिलाकर सीधे रायपुर जाने को कहा लेकिन ड्राइवर मिथिलेश ने उनसे संपर्क कर न्याय मांगी ।

आज हम लोग जिला निर्वाचन अधिकारी और पुलिस कप्तान से न्याय दिलाने की उम्मीद लेकर आए हैं उमेश सिंह ने कहा की ऐसे गैर जिम्मेदार और लापरवाह पुलिस आरक्षक को निलंबित किया जाए।

सिर फोड़ा… रुपया छीना

पीड़ित मिथिलेश सिंह ने बताया कि वह नागपुर की गाड़ी चलाता है चुनाव ध्यान में हमें बस लेकर रायपुर भेजा गया था रायपुर से शासन निर्देश के अनुसार जवानों को बस से जगदलपुर ले गया। इसके बाद जगदलपुर से जवानों को चुनावी ड्यूटी में सूरजपुर छोड़ा सूरजपुर से कल रायपुर निकला ।

बिलासपुर गरीब रात्रि 9:00 बजे पहुंचा रास्ता भटक गया था तोरवा थाना क्षेत्र के एक उर्दू स्कूल मैदान में बस को खड़ा करके नो एंट्री का इंतजार करने लगा क्योंकि उस समय सड़क पर बहुत भीड़ थी।

बस खड़ी करने के कुछ देर बाद ही पुलिस के जवान आए और पूछताछ करने लगे तथा पूछताछ करने के बाद ड्राइवर को पुलिस के जवानों ने मारना पीटना शुरू कर दिया कहने लगे कि यहां बस क्यों लाया

फिर थाना में ले जाकर लॉक अप के अंदर के अंदर पीटा पुलिस के जवानों ने ड्राइवर का सिर फोड़ दिया हाथ पैर को लहूलुहान कर दिया और जेब में 1900 रुपए भी लूट लिए जब जानकारी हुआ कि वाह चुनाव ध्यान से जुड़ा हुआ है शासन की अनुमति से बॉस को संचालित किया जा रहा है।

धमका कर कहां… रायपुर निकलो

इसके बाद उसे डराया धमकाया गया और खाना खिलाने के बाद तोरवा पुलिस ने कहा कि आप सीधे रायपुर निकल जाए इसके बाद मैं कलेक्टर कार्यालय पहुंचा स्थानीय संगठन को आप बीती सुनाई अब हम चाहते है कि जानबूझकर मारपीट करने वाले और चुनावी अभियान को पलीता लगाने वाली आरक्षक के खिलाफ सख्त कारवाही करें और उसे तत्काल निलंबित किया जाए।

1
Back to top button