छत्तीसगढ़

शिक्षकों का ‘लक्ष्यवेध’ ऑनलाइन प्रशिक्षण 12 से 16 जून

यह प्रशिक्षण बच्चों को 21वीं सदी की चुनौतियों का सामना

हिमांशु सिंह ठाकुर ब्यूरो रिपोर्ट कवर्धा।

कवर्धा : शासकीय शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय रायपुर के मार्गदर्शन में कबीरधाम जिले में शिक्षा के उच्च गुणवत्ता स्तर को प्राप्त करने के लिए शिक्षकों का ‘लक्ष्यवेध’ ऑनलाइन प्रशिक्षण 12 से 16 जून तक प्रतिदिन शाम 3:00 से 5:00 बजे तक गूगल मीट एप पर आयोजित किया जा रहा है यह प्रशिक्षण राज्य के कार्यक्रम समन्वयक सुनील मिश्रा के सतत प्रयास से शुरू किया गया है

इस प्रशिक्षण में प्रशिक्षकगण रविनारायण त्रिपाठी, सुमित पाण्डेय एवं ममता डहरिया के द्वारा “क्या सीखना है के स्थान पर कैसे सीखना है” और “कैसे हम अपने बच्चों को अंतरराष्ट्रीय स्तर की शिक्षा की ओर ले जा सकते हैं” इस विषय पर निरंतर शिक्षकों को मार्गदर्शन प्रदान किया जा रहा है।

प्रशिक्षण में चर्चा के प्रमुख बिंदु हैं प्रत्येक विद्यालय में तीन स्तर के बच्चे पाए जाते हैं जिनमें पहला धीमी गति से सीखने वाले बच्चे हैं जिन्हें असर स्तर के बच्चे कहा जाता है दूसरा मध्यम गति से सीखने वाले बच्चे जिन्हें नास स्तर का कहा जाता है एवं तीसरा तीव्र गति से सीखने वाले बच्चे जिन्हें पीसा स्तर का कहा जाता है। इस प्रशिक्षण का उद्देश्य 100 प्रतिशत बच्चों को पीसा स्तर के लिए तैयार करना है ताकि वे इक्कीसवीं सदी के कौशल के लिए तैयार हो सकें।

साथ ही इस प्रशिक्षण में काम के 4 स्तर पर क्रमश: कार्य करने पर जोर दिया गया है, जिसमें कहा गया है कि सबसे पहले शिक्षकों को स्वयं से पहल करनी होगी फिर धीरे-धीरे समुदाय भौतिक संसाधन और प्रशासन का सहयोग हासिल होता चला जाएगा प्रशिक्षण की मुख्य बात यह है इसमें बच्चों की स्वयं से सीखने पर जोर दिया गया है और बताया गया है कि इस प्रक्रिया में शिक्षकों को एक कुशल मार्गदर्शक सुविधा दाता एवं भयमुक्त वातावरण निर्मित करने वाले की भूमिका निभानी होगी।

यह प्रशिक्षण बच्चों को 21वीं सदी की चुनौतियों का सामना

यह प्रशिक्षण बच्चों को 21वीं सदी की चुनौतियों का सामना करने में सक्षम बनाने और उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर की शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से आयोजित की गई है। प्रशिक्षण में विकासखंड कवर्धा, बोड़ला, सहसपुर लोहारा एवं पंडरिया के शिक्षक शामिल होकर नवीन शिक्षण पद्धति का ज्ञान प्राप्त कर रहे हैं यह प्रशिक्षण जिला शिक्षा अधिकारी, डाइट कबीरधाम, जिला समग्र शिक्षा अभियान, विकास खंड शिक्षा अधिकारी, सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी एवं समस्त बीआरसी के सहयोग से सफलतापूर्वक चल रहा है इस प्रशिक्षण के नोडल प्रभारी सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी हैं।

Tags
Back to top button