17 सालों से मुख्यमंत्री निवास में रह रहे तरुण गोगोई ने खाली किया बंगला

गुवाहाटी: वरिष्ठ कांग्रेस नेता और असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई ने शुक्रवार को यहां के कोइनाधरा पहाड़ी पर स्थित मुख्यमंत्री का आधिकारिक निवास खाली कर दिया. वह पिछले 17 सालों से इस घर में रह रहे थे. तीन बार मुख्यमंत्री रहे गोगोई ने परिसर के बगीचे में आखिरी बार सैर की और वहां मौजूद अलग-अलग किस्म के पौधों की खूबसूरती को निहारा.

इसके बाद वह एम -7, मिनिस्टर्स कॉलोनी के अपने नए घर के लिए रवाना हो गए जो शहर के दिसपुर इलाके में स्थित सचिवालय के पास है.

यह पूछे जाने पर कि क्या उनके खाली करने के बाद कोइनाधरा स्थित घर में मौजूदा मुख्यमंत्री और भाजपा नेता सर्वानंद सोनोवाल वहां रहने लगेंगे, कांग्रेस नेता ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि वह ब्रह्मपुत्र गेस्ट हाउस की विलासिता छोड़ेंगे. उन्हें विलासी चीजें ही अच्छी लगती हैं.’ सोनोवाल इस समय खारघुली पहाड़ी पर स्थित ब्रह्मपुत्र गेस्ट हाउस में रहते हैं जहां से ब्रह्मपुत्र नदी दिखती है.

घर खाली करते समय संवाददाताओं से बातचीत के दौरान हल्के भावुक दिख रहे गोगोई ने कहा, ‘इस घर से कुछ गहरी यादें जुड़ी हैं. इसी घर में मुख्यमंत्री के रूप में मैंने 2001 से राज्य और उसके लोगों के कल्याण के लिए महत्वपूर्ण फैसले लिए.’

Back to top button