छत्तीसगढ़

शिक्षक राष्ट्र निर्माता एवं पूजनीय- श्रीमती बघेल

मनीष शर्मा

मुंगेली: शिक्षक दिवस के अवसर पर आज सरदार वल्लभ भाई पटेल सामुदायिक भवन मुंगेली में मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण के अंतर्गत शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले वृक्षारोपण एवं नवाचार कार्य के आधार पर जिले के तीनों विकासखण्डों के शिक्षकों को शिक्षा दूत से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती कृष्णा बघेल ने संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता एवं पूजनीय होते है। उनके पढ़ाये विद्यार्थी राजनेता, कलेक्टर, डाॅक्टर, इंजीनियर जैसे उच्च पदों पर कार्यरत है। उन्होने शिक्षकों से कहा कि और अधिक मेहनत कर जिले को आगे बढ़ायें, ताकि विद्यार्थी अपने स्कूल व माता पिता का नाम रोशन कर सकें। उन्होने शिक्षक दिवस पर सभी शिक्षकों को बधाई दी।

जिला पंचायत उपाध्यक्ष शत्रुहन चंद्राकर ने कहा कि गुरूजन हमारे पूज्य वंदनीय है। उनके आशीर्वाद से आगे बढ़ते है। उन्होने कहा कि शिक्षक समर्पित होकर विद्यार्थियों को शिक्षा देते है। नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती सावित्री सोनी ने कहा कि अशिक्षा रूपी अंधकार को दूर करने का प्रयास करते है। एक अच्छे शिक्षक को चरित्रवान होना चाहिए। विद्यार्थियों को अच्छी शिक्षा देकर आगे बढ़ायें। उनके पढ़ाये बच्चे उच्च पदों पर आसीन है।

कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कहा कि आज का दिन महत्वपूर्ण है क्योंकि शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों का सम्मान किया जाता है। उन्होने कहा कि प्रदेश सहित जिले में शिक्षा गुणवत्ता पर काम किया जा रहा है। जिले में हम होंगे कामयाब के तर्ज पर 10वीं और 12वीं बोर्ड के विद्यार्थियों को शिक्षा दी जा रही है। जिले में शिक्षकों की कमी के बाद के बावजूद बेहतर शिक्षा देने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक सीडी टंडन ने कहा कि गुरूजन विश्ववंदनीय है। शिक्षक राष्ट्र के नवनिर्माण में अहम भूमिका निभाते है। जिला शिक्षा अधिकारी जीपी भारद्वाज ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि वर्ष 2016-17 से उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों को मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण पुरस्कार दिया जा रहा है। उन्होने बताया कि वर्ष पहली बार उत्कृष्ट प्रधान पाठक एवं प्राचार्यो को ज्ञानदीप से पुरस्कृत किया जा रहा है।

उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों का सम्मान- शिक्षा, वृक्षारोपण, अनुशासन नवाचार के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों को क्रमशः 7 हजार, 5 हजार रूपए नगद राशि, प्रशस्ति पत्र, शाल एवं श्रीफल से सम्मानित किया गया। इनमें मुंगेली विकासखण्ड के प्राथमिक शाला फास्टरपुर की सहायक शिक्षक श्रीमती रेणु क्लाडियस, प्राथमिक शाला लिमहा की श्रीमती सपना ठाकुर, लोरमी विकासखण्ड के प्राथमिक शाला नवागांव वेंकट के श्रीमती कुसुमलता राजपूत, प्राथमिक शाला मोहनपुर के कमलेश महिलांगे, श्री कश्यप, पथरिया विकासखण्ड के प्राथमिक शाला गोइन्द्रा के जितेंद्र गेंदले, प्राथमिक शाला ककेड़ी के श्री कंवर, प्राथमिक शाला भुलनकापा के लोमेश कुमार साहू पुरस्कृत किया गया। इसी तरह मीडिल स्तर पर लोरमी विकासखण्ड के तिलकपुर स्कूल के रामभरोस ठाकुर, पथरिया विकासखण्ड के अमोरा स्कूल के श्री अश्वनी साहू को तथा उत्कृष्ट प्रधान पाठक के रूप में प्राथमिक शाला नुनियाकछार के नेमीचंद भास्कर, कोतरी स्कूल के द्वारिका दास वैष्णव, ककेड़ी स्कूल के प्रधान पाठक चिरंजीव पाठक, सतीश वैष्णव एवं पूछेली स्कूल के प्रधान पाठक को सम्मानित किया गया।

इस मौके पर पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष अनिल सोनी, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती उर्मिला यादव, सहायक परियोजना अधिकारी अजय नाथ, सहायक परियोजना समन्वयक श्री व्हीपी सिंह, पीसी दिव्य सहित बड़ी संख्या में शिक्षकगण उपस्थित थे।

Tags
Back to top button